cotton saree maintenance tips
cotton saree maintenance tips

गर्मियों में हल्के रंग के कॉटन के कपड़े पहनना काफी आरामदायक होता है। कॉटन और लिनेन का फैब्रिक पसीना सोखता है और त्वचा को सांस लेने का मौका मिलता है। जिसकी वजह से पसीने से होने वाली खुजली और इंफेक्शन से भी बच सकते हैं। कॉटन की साड़ियां महिलाएं अपने वॉर्डरोब में शामिल करती हैं लेकिन कई महिलाओं को यह शिकायत होती है कि कॉटन फैब्रिक की साड़ियां बहुत जल्दी खराब होती हैं और सही प्रकार से इनकी देखभाल (cotton saree maintenance tips) भी नहीं हो पाती। दरअसल कॉटन की साड़ी को धुलने और सहेज कर रखने में काफी देखभाल करनी होती है।

कई बार ऐसा होता है कि रंग बिरंगी कॉटन की साड़ियों को धोने से उनका रंग निकल जाता है और उनका फैब्रिक भी खराब हो जाता है। आज इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे नुस्खे बताएंगे जिसे अपनाकर आप कॉटन की साड़ी यानी सूती साड़ी की देखभाल (cotton saree ki care kaise karen) कर सकती हैं।

ऐसे करें कॉटन की साड़ी की देखभाल

  • कॉटन की नई साड़ियों को धोने (sooti saree washing care) से पहले 15 मिनट के लिए फिटकरी के पानी में भिगोकर रखें। ऐसा करने से साड़ी का रंग नहीं जाएगा बल्कि रंग पक्का हो जाएगा और वह जल्दी नहीं निकलेगा।
  • कॉटन की साड़ियों को कभी भी डिटर्जेंट में नहीं भिगोया जाता। इससे कपडे की चमक चली जाती है और रंग भी फीका होने लगता है। क्योंकि कॉटन का कपड़ा मुलायम होता है इसलिए कॉटन की साड़ियों (cotton saree ki dekhbhal) को बाकी कपड़ों से अलग ही धोना चाहिए।
  • कॉटन की साड़ियां में धुलाई के बाद स्टार्च लगाना (cotton saree ki dekhbhal kaise karen) जरूरी होता है। इससे सूती कपड़े कड़क बने रहते हैं और लूज नहीं होते। वैसे तो बाजार में स्टार्च मिल जाता है पर आप घर में भी पके हुए चावल के पानी या चावल की माढ़ का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके बाद साधारण पानी से साड़ी को साफ कर लें।
  • सूती साड़ी का रंग निकलने से बचाने के लिए सबसे पहले उसे गर्म पानी में सेंधा नमक डालकर 10 से 15 मिनट तक भिगोकर रखें ऐसा करने से कपड़े का रंग नहीं निकलता।
cotton saree maintenance tips
cotton saree maintenance tips
  • सूती कपड़े में यदि कोई स्टेन या दाग लग जाता है तो वह आसानी से नहीं निकलता। इसलिए यदि साड़ी पर दाग लग गया है तो उसे तुरंत पानी से धोएं। आप उसे सफेद पेट्रोल से भी साफ कर सकते हैं इससे भी दाग आसानी से निकल जाता है।
  • कॉटन की साड़ियों पर कभी भी केमिकल (kaise karen cotton saree ki dekhbhal) का प्रयोग नहीं करना चाहिए उससे कपड़े की चमक चली जाती है और कपड़ा खराब हो जाता है।
  • कॉटन की साड़ियों को धोने के बाद में निचोड़ना नहीं चाहिए (how to maintain cotton saree) इसे हल्के से दबाकर या फिर हैंगर में डाल देना चाहिए जिससे उसका पानी निकल जाए। कॉटन की साड़ी को बहुत तेज धूप में भी नहीं सुखाना चाहिए इससे उसका मटेरियल खराब हो जाएगा।
  • यदि आप कॉटन की साड़ियों को कभी-कभी पहनती हैं तो बीच-बीच में इनका फोल्ड दूसरी ओर मोड़ दें ऐसा करने से सूती साड़ी की जरी फटेगी नहीं।
  • कॉटन की साड़ी को सिकुड़न से बचाने के लिए इसे प्रेस करना ना भूले। जब साड़ी हल्की गीली हो तभी प्रेस कर लेना चाहिए।
  • कॉटन की साड़ी को हमेशा हैंगर में टांग कर रखें या फिर किसी लिफाफे या साड़ी कवर में रखें, इससे ये हमेशा नई बनी रहेगी।

रिलेटेड पोस्ट

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here