फटी एड़ियों के लिए घरेलू उपाय

एड़ियों (Heels) का फटना एक आम परेशानी है | कॉस्मेटिक (Cosmetic) के इस्तेमाल से एड़ियों का फटना एक दर्दनाक बीमारी बन गयी है | इन परेशानियों का लक्षण है जैसे लाली (Redness), खुजली (Itching), सूजन (Inflammation), स्किन का फटना (Peeling Skin) और साथ में त्वचा का रूखा व पतला हो जाना है | इसके पहले कि दरारें (Cracks) गहरी हो जाए और उसमे से खून (Bleeding) आने लगे या दर्द हो, हम सही उपचार से बच सकते हैं | Home Remedies For Cracked Heels

एडियाँ फटने के प्रमुख कारण:

  • हवा में रूखापन
  • स्किन में मोइश्चर की कमी
  • सही तरीके से पैर की देखभाल न होना
  • हेल्दी खाना न खाने से
  • ठोस ज़मीन पर देर तक खड़े रहने से
  • गलत तरीके के जूते पहनने से
  • डायबिटीज की बीमारी से
  • थाईराइड की बीमारी से

फटी एड़ियों की परेशानियों से बचने के लिए कुछ घरेलु उपाय:

1. वेजीटेबल तेल (Vegetable Oil) लगाने से –

किसी भी तरह का वेजीटेबल तेल लगाकर आप अपनी फटी एड़ियों का इलाज कर सकते है | ज़ैतून का तेल (olive oil), तिल का तेल (sesame oil), नारियल का तेल (coconut oil) और कोई भी हाइड्रोजिनेटेड़ वेजीटेबल तेल (hydrogenated vegetable oil ) कारगर होता है | सोने से पहले फटी एड़ियों पर तेल लगाए जो कि रिसकर स्किन में जाता है | ऐसा करने से आपको अच्छे रिजल्ट्स मिलेगें |

वेजीटेबल तेल लगाने का तरीका :

  • पहले अपने पैरों को साबुन (soap) के पानी में डाल कर झावें (pumice stone) से रगड़ें|
  • पैरों को धो लें और पूरी तरह से सुखा लें |
  • वेजीटेबल तेल अपने एड़ी और तलवे पर लगाए |
  • एक जोड़ी मोज़ा ( pair of socks ) अपने पैरों में पहन कर सो जाए और सुबह आपकी एड़िया मुलायम ( soft ) लगेगी |
  • कुछ दिनों तक ऐसा करें जब तक आप की एड़ियों की दरारें भर न जाए |

2. चावल का आटा (rice flour) का पेस्ट लगाने से –

एक्सफ़ोलिअटिंग (exfoliating) आपके पैर और एड़ी की डेड (dead) स्किन को ख़त्म कर देता है, जो एड़ी को फटने और रूखे होने से बचाती है | एक्सफ़ोलिअटिंग (exfoliating) स्क्रब (scrub) बनाने के लिए हम चावल के आटे का इस्तेमाल कर सकते है |

स्क्रब बनाने के लिए:

  • एक मुट्ठी चावल का आटा ,थोड़ी सी शहद, एप्पल साइडर विनेगर (apple cider vinegar) लें | तब तक मिलाए जब तक पतला पेस्ट बन न जाए | अगर एड़ियाँ ज्यादा फटी हो तो एक चम्मच जैतून का तेल या बादाम का तेल मिला लें |
  • 10 मिनट तक गर्म पानी में पैर को डुबो दें और फिर चावल के बने पेस्ट से स्क्रब करें |
  • कुछ हफ्ते तक ऐसा करें जब तक की आप को अच्छे रिजल्ट्स मिल नहीं जाते |

3. नीम लगाने से –

फटी एड़ी, खुजली और इन्फेक्शन के लिए नीम एक अच्छी दवाई है | नीम के फंगीसिडल गुण रूखेपन, खुजली वाली स्किन और इन्फेक्शन से लड़ने में मदद करता है |

  • एक मुट्ठी नीम की पत्ती पीस कर पेस्ट बना लें और तीन चम्मच हल्दी का पाउडर ले कर अच्छी तरह मिला लें |
  • फटी एड़ी पर पेस्ट को लगाए और आधे घंटे तक छोड़ दें |
  • गर्म पानी से पैरों को धो लें और साफ़ कपड़े से पोछ लें |

4. नीम्बू के इस्तेमाल से-

जब स्किन रुखी हो जाती है, तो फटने लगती है और नीबू में एसिडिक गुण पाए जाते है जो इसमें फायदेमंद होते हैं |

  • गर्म पानी में नीबू का रस डाल कर 10 से 15 मिनट तक पैर को डुबो कर रखें | ध्यान दें कि पानी ज्यादा गर्म न हो वरना पैरों को ज्यादा रुखा कर देंगें |
  • फटी एड़ियों को झवे (pumic stone) से अच्छी तरह रगड़े |
  • पैरों को धो लें और तौलिये से पोंछ लें |

5. गुलाबजल और ग्लिसरीन से-

फटी एड़ियों के लिए गुलाबजल और ग्लिसरीन का मिश्रण काफी फायदे करता है | ज़्यादातर कॉस्मेटिक में ग्लिसरीन इसलिए इस्तेमाल होता है, कि ग्लिसरीन स्किन को मुलायम बनाता है | गुलाबजल से विटामिन्स A, B3 , C, D, और E मिलता है साथ में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी–इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण भी मिलते हैं |

गुलाबजल और ग्लिसरीन बराबर मात्रा में ले कर मिला लें और रोज़ रात को सोने से पहले अपने पैर और एड़ी में लगा लें |

6. पैराफिन वैक्स ( paraffin wax ) से इलाज –

पैर की एड़ियाँ ज्यादा फट गयी हो और ज्यादा दर्द करती हो तो पैराफिन वैक्स ( paraffin wax ) आपको तुरंत आराम देता है | पैराफिन वैक्स एक नेचुरल एमोल्लिएन्त की तरह कम करता है जो स्किन को मुलायम बनाता है |

  • डबल बायलर (double boiler ) में पैराफिन वैक्स का एक ब्लाक पिघला लें और उसमें दो चम्मच सरसों का तेल या नारियल का तेल मिला लें |
  • इससे तब तक ठंडा होने दें जब तक की इसके उपर एक पतली परत न बन जाए | ठंडा होने के बाद मिश्रण में पैर डुबो कर 10 से 15 सेकंड तक छोड़ दें | इसी तरह कुछ देर तक करें, जब तक की कई परत पैर पर बन नहीं जाती
  • पैर को प्लास्टिक ( plastic ) से ढक कर 30 मिनट तक छोड़ दें | प्लास्टिक उतार दें और वैक्स को छिल (peel off ) दें | हफ्ते में दो बार ऐसा करें |

7. एप्सोम नमक ( Epsom salt ) से उपचार-

  • फुट टब में गर्म पानी लें और आधा कप एप्सोम नमक मिला लें | 10 मिनट तक अपने पैर को इस मिश्रण में डुबो दें |
  • झावें (pumice stone ) से पैर को रगड़ कर फिर मिश्रण में डुबो दें |
  • पैर को सुखा लें और फुट क्रीम या पेट्रोलियम जेली ( petroleum jelly ) लगा लें ताकि पैरों में मोइस्चर ( moisture ) बना रहे |
  • एक जोड़ी मोज़ा पैरों में पहने ताकि मोइस्चर उड़ने न पाए |

8. केले से उपचार-

फटी या रुखी एड़ी के लिए सस्ता व घरेलू उपचार पका केला ( ripe banana ) है जिसमें मॉइस्चराइजिंग गुण होते है |

  • एक पका हुआ केला मसल (mashed ) कर पेस्ट बना लें | पैरों को अच्छी तरह धो लें और एड़ी पर केले का पेस्ट लगायें |
  • 10 से 15 मिनट के लिये छोड़ दें ताकि आपके स्किन अच्छी तरह से मोइस्चर सोख ले | गर्म पानी से पैरों को धो लें और उसके बाद 5 से 10 मिनट तक ठन्डे पानी में पैरों को डुबों दें |
  • कुछ हफ्ते तक रोज़ ऐसा करने से पैरों की एड़ियाँ मुलायम और चिकनी रहती है |

9. शहद (Honey) से उपचार –

शहद में मोइस्चर और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो फटी और रुखी एड़ियों के लिए अच्छा इलाज है |

  • फुट टब में गर्म पानी लें और उसमे एक कप शहद ( honey ) मिला लें |
  • 15 से 20 मिनट तक पानी में पैरों को डुबो दें |
  • पैरों को धीरे धीरे स्क्रब करें |
  • फटी एड़ियों से आराम मिलने तक ये हफ्ते में रोज़ कर सकते हैं |

10. पेट्रोलियम जेली (petroleum jelly) से उपचार-

पेट्रोलियम जेली का इस्तेमाल करके रुखी, खुरदुरी स्किन और फटी एड़ियों से बचा जा सकता है | पेट्रोलियम जेली पैरों को मुलायम और मोइस्ट बनाए रखती है |

  • गर्म पानी में डुबोने के बाद कड़ी डेड स्किन को स्क्रब कर लें और पूरी एड़ी पर पेट्रोलियम जेली लगा लें |
  • एक चम्मच नीबू का रस भी पेट्रोलियम जेली में मिला कर लगा सकते हैं |
  • पैरों में मोज़ा पहने ताकि पेट्रोलियम जेली स्किन में सुख जाए.  सोने से पहले ऐसा रोज़ करें इससे अच्छा रिजल्ट मिलेगा.
Share

Recent Posts

गणेशोत्सव 2019 : ‘बप्पा मोरया’ के घर आगमन पर इन 10 बातों का रखें ध्यान

प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी 2 सितंबर, सोमवार से गौरी-पुत्र श्री गणेश जी हमारे मध्य पूरे दस दिनों के लिए विराजमान… Read More

August 30, 2019 4:56 pm

हरतालिका तीज पर डायबिटीज के मरीज व्रत रखने से पहले ये 7 बातें जान लें

हिन्दु धर्म की मान्यताओं में सुहागिन महिलाओं का मुख्य व्रत हरितालिका तीज माना जाता है।हरतालिका तीज व्रत भाद्रपद शुक्ल पक्ष… Read More

August 29, 2019 4:29 pm

हरे धनिया की खस्ता मठरी बनाने की विधि

हरे धनिये की खस्ता मसाला मठरी साधारण मठरी के मुकाबले बहुत ही स्वादिष्ट बनती है, साधारण मठरी सिर्फ अजवायन डालकर… Read More

August 28, 2019 4:45 pm

आलू के छिलकों में भी छिपे है सेहत और सौंदर्य के गुण, जाने इसे खाने या लगाने के फायदे

आलू ऐसी सब्जी है जिसका इस्‍तेमाल तकरीबन हर सब्‍जी में होता है। आलू से बनी हर चीज खाने में जायकेदार… Read More

August 27, 2019 1:57 pm

01 नहीं, 02 सितंबर को मनाई जाएगी हरतालिका तीज, ये है वजह

हर वर्ष भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया को हरतालिका तीज का व्रत रखा जाता है। हरतालिका तीज 1… Read More

August 26, 2019 1:24 pm

रानू मंडल : रेलवे स्‍टेशन से इंटरनेट सेंसेशन बनने तक का सफर

इंसान वही जो अपनी तकदीर बदल दे। कल क्या होगा उसकी कभी ना सोचो, क्या पता कल वक्त, खुद अपनी… Read More

August 25, 2019 5:33 pm