बेटियों की इस योजना में सरकार ने दी बड़ी छूट, 31 जुलाई तक उठा लें फायदा

0
234

हेलो फ्रेंड्स , अभी पूरे देशभर में फैल रही कोरोना महामारी के बीच केंद्र सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में अकाउंट खोलने वालों को बड़ी राहत दी है. सरकार की ओर से जारी किए गए नोटिफिकेशन के मुताबिक अब 25 मार्च से 30 जून 2020 के बीच जो भी बेटियां 10 साल की उम्र पूरी कर रही हैं. Sukanya Yojana Date Extended

वह अपना खाता खुलवा सकती हैं. लॉकडाउन की वजह से इस योजना में जो भी मां-बाप अपनी बेटियों का खाता नहीं खुलवा पाए थे, वो अब 31 जुलाई तक आसानी से खुलवा सकते हैं.

सुकन्या समृद्धि योजना मोदी सरकार द्वारा शुरू की गयी छोटी बचत स्कीम है. ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत इसे शुरू किया गया था. यह स्कीम बेटियों की शिक्षा और उनके शादी-ब्याह के लिए रकम जुटाने में मदद करती है. अभी स्कीम के तहत 8.1 फीसदी ब्याज मिलता है.

यह भी पढ़ें : बैंक खाते में रखिये 342 रुपये, मिलेगी 4 लाख की सुरक्षा

31 जुलाई तक मिलेगा लाभ :

पहले के नियमों के मुताबिक, जन्म से 10 साल की उम्र पूरी करने वाली बेटियों का ही सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाने की परमिशन थी, लेकिन लॉकडाउन के दौरान बड़ी संख्या में माता-पिता अपनी बेटियों का सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता नहीं खुलवा पाए थे.

ऐसे माता-पिता को राहत देने के लिए सरकार ने उम्र सीमा में छूट दी है. इस संबंध में पोस्टल डिपार्टमेंट ने नई गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. हालांकि, इस छूट का लाभ 31 जुलाई 2020 से पहले खाता खुलवाने पर ही मिलेगा.

Sukanya Samriddhi Yojana
Sukanya Samriddhi Yojana

मिल रहा है इतना ब्याज :

मौजूदा समय में सुकन्या समृद्धि योजना में 7.6 फीसदी सालाना ब्याज मिल रहा है. सीनियर सिटीजंस सेविंग्स स्कीम को छोड़ दिया जाए तो इसमें सबसे ज्यादा ब्याज मिल रहा है. बता दें इस योजना में खाता खुलवाते समय जो ब्याज दर रहती हैं. उसी दर से आपके पूरे निवेश पर ब्याज मिलता है.

इतना कर सकते हैं निवेश :

इस योजना के तहत एक वित्त वर्ष में कम से कम 250 रुपए और अधिकतम 1.50 लाख रुपए जमा किया जा सकता है. एक अभिभावक अधिक से अधिक 2 बेटियों के नाम से अकाउंट खुलवा सकता है.

यह भी पढ़ें : नई कंपनी में जुड़ने से पहले ध्यान रखने योग्य बातें

कितने साल तक कर सकते हैं निवेश :

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत माता-पिता को सिर्फ 14 साल तक निवेश करना होता है. जबकि खाते की मेच्योरिटी समय-सीमा 21 साल है.

टैक्स छूट का फायदा :

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत पैसा लगाने पर आयकर कानून की धारा 80C के तहत टैक्स छूट का लाभ लिया जा सकता है. बता दें सुकन्या समृद्धि योजना के तहत मई 2020 तक 1.6 करोड़ से ज्यादा खाते खोले जा चुके हैं.

Sukanya Samriddhi Yojana
Sukanya Yojana Date Extended

कैसे कैलकुलेट होता है ब्याज? :

सरकारी बॉन्ड की यील्ड के आधार पर हर तिमाही सरकार ब्याज दर तय करती है. सुकन्या समृद्धि खाते पर ब्याज दर सरकारी बॉन्ड की तुलना में 0.75 फीसदी तक अधिक होता है.

स्कीम में अब तक दिया गया ब्याज

  • 1 अप्रैल, 2014: 9.1%
  • एक अप्रैल, 2015: 9.2%
  • 1 अप्रैल, 2016 -30 जून, 2016: 8.6%
  • एक जुलाई, 2016 -30 सितंबर, 2016: 8.6%
  • 1 अक्टूबर, 2016-31 दिसंबर, 2016 : 8.5%
  • एक जुलाई, 2017-31 दिसंबर, 2017 : 8.3%
  • 1 जनवरी, 2018- 31 मार्च, 2018 : 8.1%
  • एक अप्रैल, 2018 – 30 जून, 2018 : 8.1%
  • 1 जुलाई, 2018 – 30 सितंबर, 2018 : 8.1%
  • एक अक्टूबर, 2018 – 31 दिसंबर, 2018 : 8.5%
  • 1 जनवरी 2019 – 31 मार्च, 2019 : 8.5%

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here