ad2

हेल्लो दोस्तों मीठा खाना किसे पसंद नहीं होता है लेकिन कोरोनाकाल बाहर का खाना थोड़ा जोखिम पैदा कर सकता है ऐसे मे बच्चे अगर मीठा खाने की जिद करे तो एकदम कम समय मे और आसानी से बनाइये मीठी बूंदी। यह घर के बुज़ुर्ग लोगों की पहली पसंद होती है बूंदी एक ऐसी चीज़ है जिसके हम लड्डू भी बना सकते हैं बूंदी बनाने के लिये सादा बारीक बेसन ही काम में लाया जाता है. बारीक बूंदी बनाकर मोतीचूर के लड्डू बनाये जाते है. लेकिन आज हम सिर्फ मीठी बूंदी बना रहे हैं. Sweet Boondi Recipe

ये भी पढ़िए : मीठे में बनाइए ब्रेड चमचम, विधि है बहुत आसान

आवश्यक सामग्री (Sweet Boondi Ingredients)

  • बेसन – 200 ग्राम (2 कप)
  • चीनी – 600 ग्राम (3 कप)
  • छोटी इलाइची – 7-8 (छील कर कूट लीजिये)
  • घी या रिफाइन्ड – बूंदी तलने के लिये.

बनाने की विधि (Sweet Bundi Banane ki Vidhi)

सबसे पहले बेसन को छानकर किसी बर्तन में निकाल लीजिये. बेसन में आधा कप पानी मिलाकर गाड़ा घोल बनाइये, फिर थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर घोल को पतला कीजिये

घोल इतना गाड़ा होना चाहिये कि जब झावे के ऊपर रखा जाय तो वह बूंद बूंद करके झावे के छेद से गिरे. घोल को 5-6 मिनिट तक खूब फैटिये. तैयार घोल को 10-15 मिनिट के लिये ढककर रख दीजिये. बेसन का घोल बूंदी बनाने के लिये तैयार है.

इसके बाद बूंदी की चाशनी बनाने के लिए चीनी को किसी बर्तन में डालिये और उसमे डेढ़ कप पानी डालकर चाशनी बनने के लिये आग पर रखिये.

Sweet Boondi Recipe
Sweet Boondi Recipe

पानी में उबाल आने पर और झाग आने पर बूंदी को कल्छी से हटाकर प्लेट में निकाल दीजिये. झाग निकालने से चाशनी एकदम साफ बनती है.

चाशनी चैक करने के लिए चमचे से 1 बूंद चाशनी की प्लेट में गिराइये, उंगली और अंगूठे के बीच चिपका कर देखिये, चाशनी उंगली और अंगूठे से हल्की सी चिपकनी चाहिये.

अब घी की सतह भरने तक बूंदी घी में छोड़ दीजिये. बूंदी वाली झविया को घी के ऊपर से उठाइये, बूंदी को कल्छी से घी में हिलाया जा सकता है.

बूंदी के हल्का सा रंग बदलने और कुरकुरे होने पर, गहरे झावे से बूंदी को निकालिये, घी में बची बूंदी को कल्छी से उठाकर, गहरे झावे में रखिये. सारी बूंदी घी में से उठा कर झावे में रख लीजिये. झावे से सीधे बूंदी चाशनी में डाल कर डुबा दीजिये.

ये भी पढ़िए : माइक्रोवेव में गाजर का हलवा बनाने की विधि और टिप्स

एक बार बनाएं महीनों खाएं :

फिर घोल में बूंदी बनाकर चाशनी में डालकर डुबा दीजिये. चाशनी में बूंदी को कल्छी से ऊपर नीचे कर दीजिये, जब बूंदी चाशनी को सोखकर मुलायम हो जाए तब तक कल्छी से बूंदी को ऊपर नीचे करते रहिये. ठंडी होने पर खिली खिली मीठी बूंदी तैयार है. मीठी बूंदी आपके खाने के लिये तैयार है. बूंदी एकदम ठंडी होने के बाद एअर टाइट कन्टेनर में भर कर रख लीजिये और 1 माह तक रोजाना अपने लंच और डिनर के बाद मीठी बूंदी खाइये.

आपको ये रेसिपी कैसी लगी नीचे कमेंट बॉक्स में अपने विचार जरुर शेयर करें, और कोई सवाल हो तो पूछिए हम जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे ! और ऐसी ही अन्य रेसिपीज के लिए आप हमारे YouTube चैनल को जरुर सब्सक्राइब कीजिये ! बहुत बहुत धन्यवाद्

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

Previous articleजानिए इस बार धनतेरस पर क्या खरीदें और क्या न खरीदें ?
Next articleराजस्थान की प्रसिद्ध खूबा रोटी बनाने की विधि
Akanksha
मेरा नाम आकांक्षा है, मुझे नए नए टॉपिक पर आर्टिकल्स लिखने का शौक पहले से ही था इसलिए मैंने आकृति वेबसाइट पर लिखने का फैसला लिया !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here