Prasad Ki Panjiri Recipe
Prasad Ki Panjiri Recipe
ata

पंजीरी आमतौर पर त्योहार के मौके पर बनाई जाती है। यह एक पारंपरिक रेसिपी है जो भारत में पूजा आदि के दौरान भी बनाई जाती है। पंजीरी हल्की मीठी होती है जिसे आटे, ड्राई फ्रूट्स, मखाने और गोंद डालकर बनाया जाता है। जन्माष्टमी के दौरान भगवान कृष्ण को पंजीरी का ही भोग लगाया जाता है, पंजीरी का प्रसाद बड़ों और बच्चों को खूब पसंद आता है। Prasad Ki Panjiri Recipe

नटखट बंसी वाले गोकुल के राजा श्री कृष्ण को माखन मिश्री बेहद पसंद है। कृष्ण माखनचोर के नाम से भी जाने जाते हैं। लेकिन जन्माष्टमी के खास अवसर पर पेश है जन्माष्टमी भोग मेन्यू।

यह भी पढ़ें – श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर बनाएं खसखस की पंजीरी, ये है आसान विधि

aia

आवश्यक सामग्री

  • गेहूं का आटा – 150 ग्राम (1 कप)
  • घी – 50 ग्राम (1/4 कप)
  • बूरा (पिसी चीनी) – 100 ग्राम(आधा कप)
  • मखाने – 10 – 12
  • इलाइची – 2 (छील कर कूट लीजिये)
  • बादाम, काजू और पिस्ता
  • नारियल की चटनी बनाने की विधि
Prasad Ki Panjiri Recipe
Prasad Ki Panjiri Recipe

बनाने की विधि

  • आटे को किसी बर्तन में छान कर निकालिये.
  • भारे तले की कढाई गैस फ्लेम पर रखिये और कढाई में घी डालकर गरम कीजिये, गरम घी में आटा डालिये .
  • मीडियम गैस फ्लेम पर करछी से चला चला कर भूनिये, जब आटे में महक आने लगे और कलर ब्राउन हो जाय तब गैस फ्लेम बन्द कर दीजिये.
  • भुने आटे को ठंडा होने दीजिये.
  • एक मखाने को 4-5 टुकड़े करते हुये काट लीजिये, छोटी कढ़ाई में 2 छोटी चम्मच घी डाल कर गरम कीजिये, कतरे हुये मखाने गरम घी में डालिये .
  • ब्राउन होने तक चमचे से चलाते हुये भून लीजिये. इलाइची को छील कर पाउडर बना लीजिये.
  • भुने हुये मखाने, बूरा, इलाइची पाउडर ,बादाम, काजू और पिस्ता को आटे में मिलाइये, आह ये स्वादिष्ट पंजीरी तैयार है.
  • आप ये पंजीरी अभी खाइये और बची हुई पंजीरी एअर टाइट कन्टेनर में भर कर रख लीजिये, जब भी आपका मन करे, कन्टेनर से पंजीरी निकालिये और खाइये, यह पंजीरी 2 महिने तक भी अच्छी रहेगी.
  • स्वादिष्ट काजू कतली बनाने की विधि

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

aba

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here