किसी भी स्नैक्स के साथ अच्छी चटनी हो तो मजा दोगुना हो जाता है. करोंदे की चटनी उत्तर भारत में खाई जाती हैं. बहुत ही स्वादिष्ट होती है. कचौड़ी, समोसे, पकोड़े किसी के साथ खाइये. खाने के साथ भी प्रयोग करे, खाने के स्वाद को बढ़ाती है. करौंदे की झटपट चटपटी चटनी के लिए ये रेसिपी ट्राई करें. Karonda Chutney Recipe

करौंदा को करोंदा या करौन या करवन भी कहा जाता है। इसका वृक्ष झाड़दार होता है, जिसमे तेज काँटे होते हैं। करौंदा का वैज्ञानिक नाम कैरिसा कैरेंडस है। वैसे तो कई लोग इसकी सब्जी, मुरब्बे और अचार भी बनाते हैं, मगर यह मुख्य रूप से चटनी के लिए ही प्रचलित है।

Read – कच्चे आम की चटनी बनाने की विधि

करौंदा अपने स्वाद से हमें प्रभावित तो करता ही है, इसके खट्टे-मीठे फल भी हमें लाभ देते हैं। आयुर्वेदीय संहिताओं में दो प्रकार के करौंदों का वर्णन प्राप्त होता है – करौंदा तथा करौंदी। करौंदे के फल पकने के बाद काले पड़ जाते हैं इसलिए इनको कृष्णपाक फल कहते हैं। आज मैंने अपनी टेस्टफुल मेनू में करौंदे की चटनी रखा है। इसकी चटनी हमारी जीभ के लिए सुखदायी तो है ही, इससे मसूड़ों के रोग मिटते हैं। आइए, आज करौंदे की चटनी बनाते हैं।

Read : पुदीने की हरी चटनी बनाने की विधि

आवश्यक सामग्री :

  • 200 ग्राम कच्चा करौंदा
  • 3 हरी मिर्च
  • 2 छोटा चम्मच जीरा
  • राई चौथाई छोटा चम्मच
  • हींग 1 चुटकी
  • तेल 1 बड़ा चम्मच
  • नमक स्वादानुसार
Karonda Chutney Recipe
Karonda Chutney Recipe

बनाने की विधि :

  • करौंदे को काटकर बीज निकाल दें.
  • तेल, हींग राई को छोड़कर बाकी सामग्री मिलाकर मिक्सर में पीस लें.
  • अब हींग और राई का तड़का लगा दें.
  • चटनी को जार से निकालकर एक बड़े प्याले में डाल दीजिए।
  • करोंदे की चटनी झटपट बनकर तैयार है।
  • इस ज़ायकेदार चटनी को खाने के साथ भी परोस सकते हैं या सैन्डविच, पकौड़ों आदि के साथ भी खा सकते हैं।
  • चटनी को फ्रिज में रखकर 7 दिन तक इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • धनिया को काट जरूर ले वरना यह बारीक नही पिस पाता है।

Read : नारियल की चटनी बनाने की विधि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here