हरे धनिया की खस्ता मठरी बनाने की विधि

हरे धनिये की खस्ता मसाला मठरी साधारण मठरी के मुकाबले बहुत ही स्वादिष्ट बनती है, साधारण मठरी सिर्फ अजवायन डालकर बनाते हैं लेकिन यह खस्ता मसाला मठरी हरा धनिया को मैदा में गूंथकर बनाते हैं. मसाला मठरी सामान्य मठरी के मुकाबले में अकार में कुछ मोटी होती है लेकिन बहुत ही अधिक खस्ता होती है. हम इसमें हरे धनिये के स्थान पर पालक या मैथी के पत्ते भी मिलाकर बना सकते है. धनिये, पालक या मैथी तीनों तरह की मठरी का स्वाद मजेदार लेकिन एक दूसरे से अलग होता है. तो आज बनाते हैं छोटी धनिये की खस्ता मठरी. Hare Dhania Ki Mathari Recipe

Read : चटपटा आलू मसाला बनाने की विधि

आवश्यक सामग्री :

  • मैदा – 500 ग्राम ( 5 कप मैदा)
  • तेल – 150 ग्राम (3/4 कप)
  • जीरा – एक छोटी चम्मच
  • काली मिर्च – 20 (दरदरी कूट लीजिये)
  • अजवायन (Carom seeds) – 1 छोटी चम्मच
  • हरा धनियां (Coriander leaves) – 100 ग्राम
  • नमक – 1 छोटी चम्मच(स्वादानुसार)
  • तेल – तलने के लिये
Hare Dhania Ki Mathari Recipe

बनाने की विधि :

  • हरे धनिये को साफ कीजिये, धोइये और बारीक काट लीजिये. मैदा को किसी बर्तन में छान कर निकाल लीजिये.
  • नमक, जीरा, अजवायन, काली मिर्च, कतरा हुआ हरा धनियां और तेल डाल कर अच्छी तरह मिलाइये.
  • धनियां को पीस कर भी मिला सकते हैं, पीस कर बनाने में स्वाद तो लगभग एक ही रहता है लेकिन मठरी के रंग में गहरा और अलग हो जाता है.
  • आटे की मात्रा का चौथाई पानी लीजिये (आधा कप से थोड़ा ज्यादा पानी लेकर), पानी को हल्का गुनगुना कीजिये, गुनगुने पानी की सहायता से सख्त आटा गूथ लीजिये.
  • गुथे हुए आटे को सैट करने के लिये 20 मिनिट के लिये ढककर रख दीजिये.
  • आटा सैट हो गया है, मठरी बनाना शुरू करते हैं. गुथे हुये आटे से बराबर की छोटी छोटी लोइयां बना लीजिये,
  • एक लोई उठाइये, हथेली पर रखिये और दूसरे हाथ से दबा कर बड़ा लीजिये, अधिक पतला मत कीजिये. सारी लोइयों को इसी तरह दबा कर मठरी तैयार कर लीजिये.
  • भारे तले की कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये, गरम तेल में 10-15 जितनी भी मठरी आ सके, डालिये, मीडियम और धीमी गैस प्लेम पर मठरियां ब्राउन होने तक तल लीजिये.
  • सादा मठरी की अपेक्षा इन मठरियों के तलने में समय अधिक लगता है, एक बार की मठरी तलने में 12 – 14 मिनिट तक लग जाते हैं.
  • तली हुई मठरियां निकाल कर थाली या प्लेट पर रखिये. बची हुई मठरियां फिर से डालिये और तलिये, सारी मठरियां तल कर इसी तरह तैयार कर लीजिये.
  • अधिक स्वाद के लिये घर का बना हुआ चाट मसाला मठरियों के ऊपर डालकर मिला दीजिये.
  • आप इन्हैं अभी तो चाय के साथ खा ही रहे हैं, बची हुई मठरियां ठंडी होने के बाद, एअरटाइट कन्टेनर में भर कर रख लीजिये,
  • जब भी आपका स्नेक्स खाने का मन हो, डिब्बे से ये धनियां खस्ता मठरियां निकालिये और गरमा गरम चाय के साथ खाइये.
  • ये मठरियां आप 2 महिने भी रख कर खाइये हमेशा ही स्वादिष्ट लगेंगी.
  • मूंगफली की कतली बनाने की विधि
Share

Recent Posts

आलू मटर की सब्जी बनाने की विधि

आज हम बहुत ही आसान और साधारण सा व्यंजन बनाएंगे जिसे सभी उम्र के लोगों के द्वारा पसंद किया जाता… Read More

December 8, 2019

इस राशि के लोगों का स्वभाव होता हैं पानी की तरह सरल और शांत

दुनिया में कई प्रकार के लोग रहते हैं. यहाँ हर किसी की अपनी एक पर्सनालिटी होती हैं. कोई बहुत अधिक… Read More

December 7, 2019

फ्रूट कस्टर्ड बनाने की विधि

फ्रूट कस्टर्ड बहुत ही स्वादिष्ट और लाजवाब डिश है। यह ज्यादातर खाने के बाद मीठे में खाई जाती है। यह… Read More

December 6, 2019

अदरक की चाय से करें दिन की शुरूआत फिर देखिए कमाल

सर्दियों ने दस्तक दे दी है। ऐसे में मौसम बदलने के साथ बीमारियां भी बढ़ जाती हैं। ऐसे में बीमारियों… Read More

December 5, 2019

अमरूद की चटनी बनाने की विधि

आप चटनियों को पसंद करते हैं तो आपको अमरूद की चटनी बहुत पसंद आयेगी. अमरुद विटामिन सी का भंडार होता… Read More

December 4, 2019

आंवले का मुरब्बा बनाने की विधि

आंवले का फल बहुत गुणकारी होता है, इसमें आयरन और विटामिन C प्रचुर मात्रा में पाया जाते है. आंवले का… Read More

December 3, 2019