तो इस वज़ह से गर्भ में पल रहा बच्चा मारता है किक

हेल्लो दोस्तों मैं हूँ आकांक्षा और स्वागत करती हूँ आप सभी का आपकी अपनी वेबसाइट aakrati.in पर ! आज हेल्थ सेक्शन में मैं बताने वाली हूँ बेबी किकिंग यानि शिशु के गर्भ में पैर मारने की बात. किसी भी महिला के लिए माँ बनने का अहसास बेहद ही सुखद होता है जिसे वह अपने मन में जीवन भर संजोकर रखती है ये नौ माह का समय प्रतिदिन उसे नए-नए अहसास करवाता रहता है जैसे-जैसे गर्भ में पल रहा भ्रूण आकार लेने लगता है वैसे-वैसे माँ बन्ने का अहसास और तेज होने लगता है प्रेगनेंसी के दौरान बच्चे की लात महसूस करना माँ के लिए बहुत ही स्पेशल अनुभव होता है Why Baby Kicks In Womb During Pregnancy

खासकर तब जब बच्चे ने पहली बार किक मारी हो लेकिन क्या आपको पता है बच्चा ऐसा क्यों करता है अगर नहीं जानते हो तो आइये हम आपको बताते हैं इसके पीछे की सच्चाई.

नए वातावरण में बदलाव होने पर :

जब बच्चा बाहर के परिवर्तन को महसूस कर रहा होता है तो ऐसे में वह तुरंत अपनी प्रतिक्रिया को किक मार कर दिखाता है बाहर से कुछ शोर या माँ के कुछ खाने की आवाज़ सुनकर बच्चा अपने अंगों को फैलाता है लात मारना उनके सामान्य विकास का संकेत भी होता है

बच्चे के अच्छे स्वास्थ्य का संकेत :

लात मारना नवज़ात शिशु के अच्छे विकास का संकेत होता है इसका मतलब यह होता है कि आपका बच्चा बहुत सक्रिय है आपको बच्चे की लात मारना तब महसूस होता है जब वह गर्भ में हिचकी लेता है या हिलता-डुलता है जब बच्चा अपने अंगों को गर्भावस्था के शुरूआती सप्ताह के दौरान फ़ैलाता है, तो आपको परेशानी महसूस हो सकती है

36वे हफ्ते के बाद कम होता लात मारना :

एक समय ऐसा आता है जब बच्चा गर्भ में 40-50 मिनट तक आराम करता है प्रेगनेंसी के 36वे हफ़्ते के बाद आपके बच्चे का आकार बढ़ जाता है जिसकी वजह से वह ज्यादा हिल नही पाता है इस दौरान आप अपनी पसलियों के नीचे एक या दोनों तरफ़ दोनों पक्षों के पास लात महसूस करेंगी

कम लात मारना परेशान होने का संकेत :

28 हफ़्ते के बाद डॉक्टर आपको बच्चा कितनी बार लात मारता है उसे गिनने को कहते हैं अगर बच्चा लात नहीं मार रहा है या कम मार रहा है तो यह उसके पास ऑक्सीजन सप्लाई ना होने के कारण भी हो सकता है बच्चे का हिलना और लात कम मारने का कारण शुगर लेवल का कम होना भी हो सकता है अगर खाने के बाद भी आपका बच्चा लात नही मार रहा है तो एक गिलास पानी पीकर देखें.

Share
Akanksha

हेल्लो मेरा नाम आकांक्षा है और मुझे वेबसाइट पर नए नए टॉपिक पर आर्टिकल्स लिखने का शौक पहले से ही था इसलिए मैंने आकृति वेबसाइट पर लिखने का फैसला लिया और मुझे बहुत मज़ा आता है यहाँ आर्टिकल लिखने में ! आप मेरे आर्टिकल ज़रूर पढ़िए !

Recent Posts

भुट्टे का उपमा बनाने की विधि

उपमा सेहत के लिए काफी हेल्दी माना जाता है अगर इसे सुबह-सुबह बनाकर खाया जाए तो फिर ये सेहत के… Read More

July 16, 2019 1:09 pm

लक्ष्मी के पैर लेकर पैदा होती हैं इस माह में जन्मी बेटी, घर लाती हैं तरक्की और भाग्य

हिन्दू धर्म में लडकीयो को माँ लक्ष्मी का रूप समझा जाता है | अत: हिन्दू धर्मशस्त्रो के अनुसार जिस घर… Read More

July 16, 2019 1:02 pm

महिलाओं में इसलिए बढ़ रही है माइग्रेन की समस्या, इससे होगा फायदा

आज-कल की भागदौड़ वाली लाइस्टाइल में कई लोग मुख्य रूप से महिलाएं माइग्रेन की शिकार हो रही हैं और चिकित्सा… Read More

July 16, 2019 12:53 pm

घर में रसीली जलेबी बनाने की विधि

आपने अक्सर गली-मौहल्ले के नुक्कड़ पर मिलने वाली लाल या नारंगी रंग की कुरकुरी जलेबी का स्वाद जरूर चखा होगा।… Read More

July 15, 2019 5:42 pm

ब्लाउज के गले की आकर्षक डिजाइन

भारतीय महिलाओं के पसंदीदा कपड़ों में सबसे ज्यादा पहनी जाने वाली ड्रेस है साड़ी । इसे देश के हर राज्य… Read More

July 15, 2019 5:35 pm

चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिला रखे इन 7 बातों का खास ध्यान

साल 2019 का दूसरा चंद्र ग्रहण 16 जुलाई यानि कल शाम लगने जा रहा है, जो केवल भारत में ही… Read More

July 15, 2019 11:04 am