गर्भनिरोधक गोली की तरह काम करते है इस पेड़ के बीज !

इन दिनों मार्केट में अनचाही गर्भ से बचने के ल‍िए कई सारे विकल्‍प मौजूद हैं। लेकिन महिलाएं अनचाहे गर्भ और शरीर में होने वाली साइड इफेक्‍ट्स से बचने के ल‍िए कई आयुर्वेदिक और नेचुरल तरीकों का सहारा लेती हैं। अगर आप बिना इसका इस्तेमाल किए प्राकृतिक तरीके से प्रेग्नेंसी रोकना चाहती हैं तो आयुर्वेद के पास इसका हल है। हां, किसी भी आयुर्वेदिक तरीके के इस्तेमाल से पहले डॉक्टर और आयुर्वेदिक विशेषज्ञ से सलाह जरूर ले लें। Try Castor Seeds Avoid Pregnancy

कई बार कुछ लोगों को आयुर्वेदिक नुस्खे भी सूट नहीं करते हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि आप सलाह लेकर ही किसी भी चीज का सेवन करें

अरंडी का करें इस्तेमाल

आयुर्वेद में अरंडी यानी कैस्टर के बीज को सबसे असरदाय‍क गर्भन‍िरोधक दवा माना गया है। इसका इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले अरंडी के बीज को फोड़ें। उसके बाद उसमें मौजूद सफेद बीज को निकालें। इस बीज को एक गिलास पानी के साथ खा लें।

आप इनसे शरीर पर होने वाले साइड एफेक्ट से बचना चाहते हैं तो आयुर्वेद में भी आपके लिए कई उपाय मौजूद हैं। ऐसे ही एक उपाय में अरंडी का नाम भी शामिल है।आपने बस अरंडी के बीज का नाम ही सुना होगा। लेकिन उसके ये फायदे शायद ही आप जानते हो वैसे तो आजकल गर्भनिरोधकों के तमाम विकल्प पहले से ही मौजूद हैं बाजार में।

वैसे तो इस उपाय का कोई साइड एफेक्ट नहीं है लेकिन फिर भी इस बीज का इस्तेमाल करने से पहले आपको किसी अनुभवी आयुर्वेदिक डॉक्टर से परामर्श जरूर लेना चाहिए ताकि आप इसका सही मात्रा में उपयोग कर लाभ ले सके।

सबसे पहले कैस्टर यानी अरंडी के बीज को फोड़ें। उसके बाद उसमें मौजूद सफेद बीज को निकालें। इस बीज को एक गिलास पानी के साथ खा लें। ये आई-पिल की तरह करता है काम। अगर महिलाएं योन सम्बंद करने के 72 घंटे के भीतर इस बीज का सेवन करती हैं तो यह एक आई-पिल की तरह ही गर्भधारण रोक सकता है।

Try Castor Seeds Avoid Pregnancy

कब खाएं अरंडी –

अरंडी के बीज का इस्तेमाल आप संबंध बनाने के 72 घंटे के अंदर गर्भनिरोधक गोलियों के रूप में कर सकती हैं। अगर महिलाएं सेक्स करने के 72 घंटे के भीतर इस बीज का सेवन करती हैं तो यह एक कॉन्ट्रासेप्टिव पिल की तरह ही गर्भधारण रोक सकता है।

  • अगर कोई महिला इस बीज का सेवन पीरियड्स के तीन दिनों तक करें तो एक महीने तक इसका प्रभाव रहेगा।
  • कॉन्ट्रासेप्टिव पिल की तरह अरंडी के बीज का इस्तेमाल का वैसे तो कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है, फिर भी इसे यूज करने से पहले आप अपने फैमिली डॉक्टर और आयुर्वेदिक विशेषज्ञों से एक बार सलाह जरूर लें।
Share

Recent Posts

कटहल का अचार बनाने की विधि

बाजार में बिकने वाला सफेद-सफेद कच्चे कटहल से लोग सब्जी तो तैयार करते ही है, इससे महीनों तक के लिये… Read More

August 20, 2019 5:26 pm

श्री कृष्णा जन्माष्टमी पर विशेष – पंजीरी बनाने की विधि

पंजीरी आमतौर पर त्योहार के मौके पर बनाई जाती है। यह एक पारंपरिक रेसिपी है जो भारत में पूजा आदि… Read More

August 19, 2019 7:20 pm

जन्माष्टमी 23 या 24 अगस्‍त को? तारीख के साथ ये है पूजा का शुभ मुहूर्त

हिन्‍दू मान्‍यताओं के अनुसार सृष्टि के पालनहार श्री हरि विष्‍णु के 8वें अवतार श्रीकृष्‍ण के जन्‍मोत्सव को जन्‍माष्‍टमी के रूप… Read More

August 18, 2019 5:40 pm

झटपट तैयार करें टमाटर पनीर, हर किसी को आएगी पसंद

पनीर एक ऐसा व्यजंन है, जो हर किसी को बहुत पसंद आता है। खासतौर से, शाकाहारी लोगों का तो यह… Read More

August 17, 2019 12:44 pm

मानसून में फंगल इंफेक्शन का कारण और इससे बचने के घरेलू उपचार

बेशक सभी मौसमों की अपनी स्किनकेयर रूटीन होती हैं लेकिन मॉनसून में स्किनकेयर अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है। और इसका… Read More

August 16, 2019 5:40 am

ऐश्वर्या पिस्सी मोटरस्पोर्ट में वर्ल्ड चैम्पियन बनीं, यह खिताब जीतने वाली पहली भारतीय रेसर

Aishwarya Pissay Won Motorsports World Cup : किसी काम को करने सनक की हद तक दीवानगी उस काम में क़ामयाबी… Read More

August 15, 2019 3:45 pm