बिना किसी टेस्‍ट के घर बैठे पहले सप्‍ताह में ही जानें गर्भवती हैं या नहीं

कहते हैं माँ बनने के सुख अलग ही होता है, इसलिए ऐसे अवस्था में माँ और बच्चे का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाता है वहीं अगर इनका अच्छे से ध्यान नहीं रखा जाता तो माँ और बच्चा दोनों अस्वस्थ हो सकते है। हर महिला अपने जीवन में चाहती है कि वह भी माँ का सुख प्राप्त करें और यह हर किसी के लिए खास होता है और जब भी महिला को थोडा सा भी कुछ आभास होता है तो वह उत्सुक हो जाती है कि आखिर वह गर्भवती है या नही ? कहा जाता है कि प्रेगनेंसी के दौरान औरतों को जी मिचलाना, उलटी आना, पैरो में सूजन आना ये सब स्‍वभाविक प्रक्रिया है। वहीं पहले के जमाने में लोग इन्‍हीं बातों से महिलाओं के प्रेग्‍नेंट होने का अंदाजा लगाते थें। Know About Pregnancy Without Any Test

आज का जमाना बदल चुका है अब कई सारी ऐसी सुविधाएं भी आ गई है जिससे आप अपनी प्रेग्‍नेंसी का पता कर सके। इसके लिए आपको कई तरह की दवाईयां भी मार्केट में मिल जाती हैं। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जिससे आपको पहले ही हफ्ते में पता चल सकता है कि आप गर्भवती है या नहीं। जी हां आपको इसके बारे में कुछ ऐसे लक्षण बताने वाले है जिससे आप बिना किसी टेस्ट के ही पता कर सकते है कि आप गर्भवती है या नहीं।

हाल ही में हूए शोध में पता चला है कि आप बिना किसी मेडिसीन का प्रयोग किए भी जान सकती हैं कि आप प्रेग्‍नेंट हैं या नहीं। ये शोध दो महिलाएं गर्भावस्था के दौरान किया गया जिसमें एक ही तरह के लक्षण कभी भी महसूस नहीं करती। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हर महिला शरीर के लक्षण और प्रसव पीड़ा अलग अलग होती है लेकिन इसके बावजूद महिलाओं में कई तरह के सामान्य लक्षण भी दिखाई पड़ते है जो ये पता करने में मदद करते हैं कि महिला गर्भवर्ती है।

सबसे पहले तो आप ये जान लें कि हमेशा मासिक धर्म में होने वाली देरी हमेशा गर्भावस्था के ही ओर संकेत नहीं करती है बल्कि इसके कारण आपको हमेशा मासिक धर्म के दौरान दो चार दिन ऊपर होना भी हो सकता है लेकिन कई शारीरिक समस्या ऐसी भी होती है लेकिन अगर आपको मासिक धर्म में दस या पन्द्रह दिन से ज्‍यादा देर हो गया हो तो आप एक बार डॉ जरूर सलाह ले लें। वहीं आपको कुछ ऐसे ऐसे संकेतो के बारें में भी बताने जा रहे है जिसके बारें में आप अपने घर में बैठे ही पता कर सकते है कि आप गर्भवती है या नही ?

ये रहे कुछ मुख्‍य संकेत :

  • पहले हफ्ते में सुबह के समय अधिक कमजोरी महसूस होना ये एक मुख्‍य कारण है।
  • हमेशा स्‍तनों में तनाव बना रहना।
  • मन में बार बार बदलाव होना।
  • हमेशा कब्‍ज होना।
  • गर्भधारण के बाद पीरियड्स में रक्‍त का स्राव कम हो जाना।
  • महिलाओं का मुंह का स्‍वाद बदल जाना, खाने पीने की चीजों में कसापन महसूस करना।
  • हार्मोन में बदलाव होना।
  • सिरदर्द की समस्‍या गर्भावस्‍था के पहले हफ्ते में बनी रहती है। शरीर में रक्‍त का प्रवाह बढ़ जाता है।
Share
Nidhi

Hello Friends, I am a freelancer content writer, and I am writing contents for many websites since very long time.

Recent Posts

खुशबूदार टेस्टी पुदीना गट्टा की सब्जी बनाने की विधि

क्या आप पुदीने की चटनी बनाकर बोर हो गए हैं? पुदीने से ही कुछ नई तरह का रेसिपी बनाना चाहते… Read More

May 23, 2019 11:25 am

साइलेंट हार्ट अटैक के हो सकते हैं ये संकेत, रहेंं सावधान !

साइलेंट हार्ट अटैक उसे कहते हैं जब व्‍यक्ति में हार्ट अटैक के लक्षण महसूस हुए बिना ही दिल काम करना… Read More

May 23, 2019 10:57 am

बच्चों के लिए बनाएं यम्मी मैंगो मफिन

आम का सीजन चल रहा है और हर किसी को आम खाना बेहद पसंद होता है. आम से आप एक… Read More

May 22, 2019 4:57 pm

पति-पत्नी के बीच लड़ाई का कारण बनते हैं ये वास्तुदोष

कहते हैं कि पति-पत्नी का रिश्ता बड़ी ही नाजुक डोर से बंधा होता है। अगर इसमें जरा सी भी नोंक-झोक… Read More

May 22, 2019 3:32 pm

तरबूज के छिलके की सब्जी बनाने की विधि

तरबूज़ के छिलकों का आप क्या करते हैं? ज़ाहिर है, फेंक देते होंगे। लेकिन अगर हम आपको बताएं कि इनसे… Read More

May 22, 2019 3:18 pm

भूलकर भी चेहरे के साथ न करें ये काम, बिगड़ सकती है ख़ूबसूरती

हेल्लो दोस्तों मैं हूँ आकांक्षा और स्वागत करती हूँ आप सभी का आपकी अपनी वेबसाइट aakrati.in पर ! आज हेल्थ… Read More

May 21, 2019 6:21 pm