गर्भवती महिलाएं ये खाएं और बढ़ाएं अपने बच्चे की बुद्धि

कौन माँ नहीं चाहती की उसका बच्चा स्मार्ट हो! अपने बच्चे की दिमागी शक्ति बढ़ाने के लिए आपको उसकी तैयारी गर्भवती होने के 3 हफ़्ते पहले शुरू करनी होगी(इसी समय आपके बच्चे का दिमागी विकास होता है)| आपको इसी समय पोषक भोजन भी खाना शुरू करना सही होगा! Foods That Increase Your Child Intelligence

गर्भावस्था के समय स्वस्थ खाना आपके बच्चे के दिमागी विकास की सबसे बड़ी पूंजी है, हम आपको विस्तार से बताते हैं की आप इस समय क्या खाएं:

जिंक के लिए कद्दू :

कद्दू के बीज जिंक से भरपूर हैं जो की दिमागी विकास के लिए अवश्य होता है| जिंक दिमाग के उस हिस्से की शक्ति बढ़ाता है जिससे शरीर को कार्य करने की शक्ति मिलती है| रोज़ाना 7 mg कद्दू के बीज अवश्य खाएं|

फोलेट के लिए पालक :

पालक ना केवल आयरन से भरपूर है बल्कि नए DNA और सेल एक्टिवेट करने के लिए भी जाना जाता है| पालक में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट बच्चे के दिमाग के टिशू को नुकसान पहुंचने से बचाता है| गर्भवती महिलाओं को रोज़ाना 400 mcg फोलेट की आवश्यकता होती है और पालक खाने से उन्हें ये मिलता है| पालक को अधिक देर तक पकाने से उसका पोषण ख़तम होने का खतरा रहता है|

कोलीन के लिए अंडे :

आयरन और प्रोटीन से भरपूर होने के साथ-साथ अंडे कोलीन से भी भरपूर होते हैं जो की दिमागी विकास के लिए बेहद्द ज़रूरी होता है| आपके शरीर में रोज़ाना 450 mg कोलीन होना अवश्य है| अंडों की ज़र्दी में भरपूर कोलीन होती है|

बीटा-कैरोटीन के लिए शकरकंद :

बच्चे के दिमागी नर्वोस सिस्टम के विकास के लिए बीटा-कैरोटीन बहुत महत्वपूर्ण है| शरीर में रोज़ाना 700 mcg बीटा-कैरोटीन होना ज़रूरी होता है| शकरकंद जो ऑरेंज रंग के होते हैं उनमें अधिक मात्रा में बीटा-कैरोटीन पाया जाता है|

विटामिन-ई के लिए मूंगफली :

विटामिन ई प्रत्येक नुकसान से मानव कोशिकाओं की रक्षा करता है| स्वास्थ्य समस्याओं की कई क़िस्मों को कम करने में सहायता करता है जिसमें कैंसर, दिल की बीमारी और भूलने की बीमारी जैसी कई बीमारियाँ है| विटामिन ई के कई अन्य फ़ायदे हैं| सेल संरक्षण के अलावा, विटामिन ई प्रतिरक्षा प्रणाली के कामकाज के लिए महत्वपूर्ण है। विटामिन ई नेत्रों की लंबी अवधि तक रक्षा करता है – एक अनुसंधान के अनुसार विटामिन ई खाने वालों में मोतियाबिंद कम पाया जाता है|

Share
Akanksha

मेरा नाम आकांक्षा है, मुझे नए नए टॉपिक पर आर्टिकल्स लिखने का शौक पहले से ही था इसलिए मैंने आकृति वेबसाइट पर लिखने का फैसला लिया !

Recent Posts

होली के अवसर पर घर में बनाएं सूजी ड्राय फ्रूट गुजिया

इस समय आप जरूर होली की तैयारियां कर रहे होंगे। साथ आपने आने वाले मेेहमानों… Read More

February 26, 2020

लाजबाब पंजाबी पालक पनीर बनाने की विधि

पालक पनीर (Punjabi Palak Paneer Recipe) उत्तर भारत की बेहद लोकप्रिय करी (सब्ज़ी) है जिसका… Read More

February 25, 2020

चाहते हैं स्किन पर ना चढ़े गहरा रंग, तो अपनाएं ये 5 टिप्स

दोस्तों, होली आने वाली है और इसलिए होली के रंग को अपनी स्किन से छुड़ाने… Read More

February 25, 2020

मिल्क पाउडर गुजिया बनाने की विधि

गुजिया होली की खास मिठाई है. यह अनेक तरह की स्टफिंग और आकार में बनाई… Read More

February 23, 2020

शिशुओं में डायपर रैशेस के लिए घरेलू उपचार

Natural Remedies For Diaper Rash : बच्चों में डायपर से रैशेस पड़ना बहुत आम बात… Read More

February 22, 2020

फाल्गुन अमावस्या 2020 में कब है, जानिए शुभ मुहूर्त, महत्व, पूजा विधि और कथा

फाल्गुन अमावस्या को साल की आखिरी अमावस्या माना जाता है, इस दिन किसी पवित्र नदीं… Read More

February 22, 2020