बच्चों को पढ़ाने से पहले खुद करें ये 2 काम, पढ़ाई लगेगी आसान

हर मां-बाप को अपने बच्चों की पढ़ाई की चिंता होती है, पर कई बार वो इस बात को नहीं समझ पाते कि बच्चे का मन पढ़ाई में क्यों नहीं लग रहा। इसका एक कारण होता है उनके पढ़ाने का तरीका गलत है, अपने बच्‍चे को पढ़ाने से पहले खुद को इस तरह तैयार कर लीजिए। Bacchon Ko Padhane Se Pahle Karen Ye Kaam

1. बच्चों को पढ़ाना :

बच्चों को पढ़ाना आसान काम नहीं होता है। यह भी एक तरह की कला होती है जिसे आपको सीखना चाहिए। बच्चें कई बार स्कूल में तो पढ़ाई कर भी लेते है लेकिन घर में उनको पढ़ाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में बच्चों को पढ़ाने से पहले आप कुछ तैयारियां कर लें। जिससे आपके बच्चे आसानी से पढ़ेगें भी और समझने में भी परेशानी नहीं होगी। आइये जानते है बच्चों को पढ़ाने का तरीके के बारे में।

2. खिलौनों और किताबों से समझायें :

अगर बच्चा बहुत छोटा है तो उसे फोटो वाली किताब, कविताओं वाली किताब या फिर कविताओं वाले वीडियो की मदद से सि‍खाने की कोशिश करें। बच्चों को उम्र के हिसाब से पढ़ाया जाए तो वह जल्दी कवर करते हैं। छोटे बच्चों को पढ़ाने के लिए कई तरह के खिलौने आते हैं। उनका इस्तेमाल भी बहुत फायदेमंद होगा। आपका बच्चा खेल-खेल में काफी कुछ सीख जाएगा।

3. नई चीजे बतायें :

बच्चों के साथ जानकारी से भरी बातें करें। उनके सवालों का तार्किक जवाब देने की कोशिश करें। सुनकर कोई भी चीज ज्यादा जल्दी समझ आती है। बच्चे को घर में बांधकर मत रखें। बच्चे समाज में चीजों को देखकर और दूसरे बच्चों से मिलकर भी काफी कुछ सीखते हैं। बच्चे के साथ कहीं घूमने निकले हैं, तो रास्ते में अपने आस-पास की चीजों के बारे में उसे बताते जाएं। बच्चे से ज्यादा से ज्यादा बातें करें।

4. गैजेट्स और सोशल मीडिया की मदद लें :

गैजेट्स और सोशल मीडिया के इस जमाने में आप इंटरनेट की मदद से भी उन्हें कुछ न कुछ पढ़ा या सीखा सकते हैं। इस तरह स्टडी के साथ-साथ उनका एंटरटेनमेंट भी होता रहता है। बच्चा अगर आपसे कोई सवाल करता हैं तो उसे नजरअंदाज और बाद में बताऊंगी। यह कह कर न टालें। ऐसा करने से हो सकता है कि वह आगे आपसे कोई सवाल- जवाब ही न करें।

5. ज्यादा डांटना ठीक नहीं :

कभी-कभार बच्चों को डांटना तो ठीक है लेकिन उन्हें बार-बार डांटना या मारना सही विकल्प नहीं है क्योंकि डांट और मार का डर मन से निकलने पर वह आपकी इज्जत करना भी छोड़ सकते हैं। खासकर जिद्दी बच्चों को प्यार से हैंडल करना बहुत ही जरूरी है, नहीं तो वह अपनी मनमर्जी करने लगते हैं।

यह भी पढ़ें : गर्भवती महिलाएं ये खाएं और बढ़ाएं अपने बच्चे की बुद्धि

Share
Akanksha

हेल्लो मेरा नाम आकांक्षा है और मुझे वेबसाइट पर नए नए टॉपिक पर आर्टिकल्स लिखने का शौक पहले से ही था इसलिए मैंने आकृति वेबसाइट पर लिखने का फैसला लिया और मुझे बहुत मज़ा आता है यहाँ आर्टिकल लिखने में ! आप मेरे आर्टिकल ज़रूर पढ़िए !

Recent Posts

कटहल का अचार बनाने की विधि

बाजार में बिकने वाला सफेद-सफेद कच्चे कटहल से लोग सब्जी तो तैयार करते ही है, इससे महीनों तक के लिये… Read More

August 20, 2019 5:26 pm

श्री कृष्णा जन्माष्टमी पर विशेष – पंजीरी बनाने की विधि

पंजीरी आमतौर पर त्योहार के मौके पर बनाई जाती है। यह एक पारंपरिक रेसिपी है जो भारत में पूजा आदि… Read More

August 19, 2019 7:20 pm

जन्माष्टमी 23 या 24 अगस्‍त को? तारीख के साथ ये है पूजा का शुभ मुहूर्त

हिन्‍दू मान्‍यताओं के अनुसार सृष्टि के पालनहार श्री हरि विष्‍णु के 8वें अवतार श्रीकृष्‍ण के जन्‍मोत्सव को जन्‍माष्‍टमी के रूप… Read More

August 18, 2019 5:40 pm

झटपट तैयार करें टमाटर पनीर, हर किसी को आएगी पसंद

पनीर एक ऐसा व्यजंन है, जो हर किसी को बहुत पसंद आता है। खासतौर से, शाकाहारी लोगों का तो यह… Read More

August 17, 2019 12:44 pm

मानसून में फंगल इंफेक्शन का कारण और इससे बचने के घरेलू उपचार

बेशक सभी मौसमों की अपनी स्किनकेयर रूटीन होती हैं लेकिन मॉनसून में स्किनकेयर अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है। और इसका… Read More

August 16, 2019 5:40 am

ऐश्वर्या पिस्सी मोटरस्पोर्ट में वर्ल्ड चैम्पियन बनीं, यह खिताब जीतने वाली पहली भारतीय रेसर

Aishwarya Pissay Won Motorsports World Cup : किसी काम को करने सनक की हद तक दीवानगी उस काम में क़ामयाबी… Read More

August 15, 2019 3:45 pm