पटना गर्ल मधुमिता को गूगल से मिला 1 करोड़ रुपये का पैकेज !

बिहार की राजधानी पटना की रहने वाली लड़की ने अपने सपनों में सात समंदर पार का पंख लगाया है. जी हां, पटना की मधुमिता शर्मा को सर्च इंजन गूगल ने अपने स्विटजरलैंड कार्यालय में टेक्निकल सोल्यूशन इंजीनियर के पद पर नौकरी दी है और पैकेज के रूप में एक करोड़ रुपये भी दिये हैं. मधुमिता ने इसके लिए नवंबर से जनवरी में आयोजित साक्षात्कार में भाग लिया था. साक्षात्कार भी सात राउंड में हुए थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सोमवार को मधुमिता ने बकायदा अपना कार्यालय ज्वाइन कर लिया है. जानकारी के मुताबिक मधुमिता के पिता पिता सुरेंद्र शर्मा ने शुरुआत में बेटी से कहा था कि इंजीनियरिंग फील्ड लड़कियों के लिए नहीं है. Patna Girl Got Job in Google

बाद में जब पिता ने देखा की इस प्रोफेशन में भी ज्यादातर लड़कियां आ रही हैं, तो उन्होंने बेटी से कहा कि चलो ठीक है एडमिशन ले लो. पिता ने मीडिया को बताया है कि मधुमिता को इससे पहले भी गूगल के अलावा अमेजॉन, माइक्रोसॉफ्ट और मर्सिडीज जैसी बड़ी कंपनीज की ओर से भी ऑफर मिला है. वहीं दूसरी ओर मीडिया से अपने अनुभवों को शेयर करते हुए मधुमिता ने बताया है कि उसे बचपन से सपना था कि गूगल जैसी कंपनी में काम करे. उसका यह सपना अब पूरा हो गया. उसने बचपन से एक सपना देखा था और अपनी लगन और मेहनत से उस सपने को साकार कर लिया. मधुमिता गूगल में नौकरी शुरू करने के पहले वे बेंगलुरु में एपीजी कंपनी में काम कर रही थीं. बेटी की इस सफलता पर पूरा बिहार गर्व कर रहा है.

Patna Girl Got Job in Google

मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक मधुमिता के पिता सत्येंद्र कुमार रेलवे प्रोटक्शन फोर्स में असिस्टेंट सिक्यूरिटी कमिश्नर हैं और उनकी मां चिंता देवी एक गृहणी हैं. पहले मधुमिता को 24 लाख, 23 लाख, 18 लाख के पैकेज का ऑफर मिला था. पहले ही मधुमिता को लगता था कि गूगल में ही उसका जॉब होगा, इसलिए उसने कभी भी कोई कंपनी जॉइन नहीं की. मधुमिता ने पटना के डीएवी पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की है. बीबीसी के मुताबिक मधुमिता को 10वीं कक्षा में 86 और 12वीं कक्षा में 88 फीसदी अंक हासिल हुआ था. बाद में उसने जयपुर से पढ़ाई की. घरवालों की मानें, तो मधुमिता एक संवेदनशील और काफी विनम्र व्यक्तित्व वाली लड़की है. मधुमिता जिद्दी होने के साथ काफी मेहनती भी है. खासकर वह एक बार जो ठान लेती है, उसे करके ही दम लेती है. गूगल में जॉब इसी का परिणाम है.

गूगल में नौकरी शुरू करने के पहले वे बेंगलुरु में एपीजी कंपनी में काम कर रही थीं. इससे पहले उन्हें अमेजॉन, माइक्रोसॉफ्ट और मर्सिडीज जैसी कंपनियों से भी ऑफर मिल चुका है. मधुमिता की कामयाबी का पूरा परिवार जश्न मना रहा है.

उन्होंने बताया कि पिछले साल उन्होंने भारत और विदेश में कई कंपनियों के लिए अप्लाई किया था और ऑनलाइन टेस्ट भी दिया था. उसके बाद उन्हें 24 लाख, 23 लाख, 18 लाख के पैकेज का ऑफर मिला था.

मधुमिता के अनुसार उन्हें इस बात का भरोसा था कि उन्हें गूगल में नौकरी मिलेगी, इसलिए उन्होंने कभी भी कोई कंपनी जॉइन नहीं की. बता दें कि उन्होंने पटना के डीएवी पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की और उन्होंने 10वीं कक्षा में 86 और 12वीं कक्षा में 88 फीसदी अंक हासिल किए थे. उसके बाद उन्होंने जयपुर के आर्या कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से पढ़ाई की. इससे पहले भी वो कई कंपनियों में काम कर चुकी हैं.

Patna Girl Got Job in Google

बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, एक समय ऐसा था जब उनके पिता उन्हें इंजीनियरिंग की पढ़ाई कराने के लिए तैयार नहीं थे. उनके पिता का कहना है कि ‘शुरुआत में मैंने कहा था कि इंजीनियरिंग का फील्ड लड़कियों के लिए नहीं है. लेकिन फिर मैंने देखा कि लड़कियां भी बड़ी संख्या में इस फील्ड में आ रही हैं. इसके बाद मैंने उससे कहा कि चलो एडमिशन ले लो.’

स्कूल की पढ़ाई के दिनों में मधुमिता को मैथ और फ़िजिक्स और भौतिकी ज्यादा पसंद था. साथ ही डिबेट कंपीटीशंस में भी वह बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेती थीं. शुरुआत में मधुमिता आईएएस बनना चाहती थीं. हालांकि बाद में उन्होंने इंजीनियरिंग को अपना करियर बनाया.

Leave a Comment