जानिए महिलाओं का पैर में बिछिया पहनने के पीछे क्या है कारण

हेल्लो दोस्तों मैं हूँ आकांक्षा और स्वागत करती हूँ आप सभी का आपकी अपनी वेबसाइट aakrati.in पर ! आज हेल्थ सेक्शन में मैं बताने वाली हूँ बिछिया पहनने के फ़ायदों के बारे में. महिलाएं के सोलह श्रृंगार करने की परंपरा सदियों से चली आ रही है। मगर बात जब सोलह श्रृंगार की होती है तो सिर से पांव तक पहने जाने वाले गहने भी इसमें शामिल किए जाते हैं। ऐसा ही एक गहना है बिछिया। अंग्रेजी में बिछिया को टो रिंग कहा जाता है और यह गहना महिलाएं शादी के बाद पति की लंबी उम्र के लिए पहनती हैं। Importance Of Wearing Toe Rings

बिछिया पैर की उंगलियों में पहनी जाती है। यह शादीशुदा महिला के सुहाग की निशानी होती है। मगर बिछिया से जुड़े कुछ वैज्ञानिक तथ्‍य भी हैं जो कहते हैं कि बिछिया पहनने से केवल पति की ही नहीं बल्कि महिलाओं की भी उम्र बढ़ जाती है। दरअसल बिछिया पहने से महिलाओं की स्‍वास्‍थ से जुड़ी कई दिक्‍कतें खत्‍म हो जाती हैं। तो चलिए जानते हैं कि बिछिया पहने से आपको क्‍या क्‍या फायदे हो सकते हैं।

प्रेगनेंट होने में होती सहायता

आजकल की जीवनशौली ऐसी हो गई है कि हर कोई व्‍यस्‍त है खासतौर पर महिलाएं दोहरी जिम्‍मेदारिया निभा रही हैं। उन्‍हें घर का और दफ्तर दोनो जगह का काम करना पड़ता है। इस वजह से होने वाली थकान और सेहत का ध्‍यान न दे पाने से गर्भ धारण करते वक्‍त उन्‍हें कई परेशानियों से जूझना पड़ता है। मगर बिछिया पहने से इस समस्‍या से आप बच सकती हैं। दरअसल वैज्ञानिक तथ्‍य कहते हैं कि जिस उंगली में बिछिया पहनी जाती है उस उंगली की नस का गर्भाश्‍य से जुड़ाव होता है। बिछिया के पहनने से यह नस दबती है जिससे गर्भाशय नियंत्रण में रहता है।

नियमित रहते हैं पीरियड्स

कई महिलाओं को शादी के बाद अनियमित पीरियड्स की दिक्‍कत हो जाती है। मगर जो महिलाएं बिछिया पहनती हैं उनके साथ यह दिक्‍कत नहीं होती। वैज्ञानिक तथ्‍यों के अनुसार बिछिया से जो नस दबती हैं वह महिलाओं के सारे प्रजनन अंगों से जुड़ी होती है। पीरियड्स भी उसी का हिस्‍सा है इसलिए इस नस के दबने से पीरियड्स भी नियमित रहते हैं।

नकारात्मक प्रभाव से दूर रहती हैं

हिंदू धर्म में मान्‍यता है कि शादी के बाद कई नकारात्‍मक प्रभाव महिलाओं को घेर लेते हैं। मगर चांदी की बिछिया पहनने से यह नकारात्‍मक प्रभाव महिलाओं से दूर रहते हैं। क्‍योंकि बिछिया एक गुड कंडक्‍टर होती है, पृथ्‍वी के संपर्क में आकर यह नकारात्‍मक प्रभावों को कम कर देती है।

बिछिया एक्यूप्रेशर का भी काम करती है

बिछिया एक्‍यूप्रेशर का भी काम करती है। कहते है बिछिया उंगली के जिस प्‍वॉइंट को दबाती है उससे यूटेरस, ब्लैडर व आंतों तक रक्त का प्रवाह ठीक से होने लगता है। इसके साथ ही बिछिया पहनने से तलवे से लेकर नाभि तक की सभी नाड़िया और पेशियां व्यवस्थित होती हैं।

रोचक बातें

  • प्राचीनकाल में महिलाओं को बिछिया और पायल इ‍सलिए पहनाई जाती थी ताकि उसकी आवाज से उनके आने की आहट मिल जाए और घर पुरुष खुद को व्‍यवस्थित कर सकें।
  • वास्तु के अनुसार, पायल व बिछिया की आवाज से घर में नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव कम हो जाता है इसके अलावा दैवीय शक्तियां अधिक सक्रिय हो जाती है |
  • इसके अलावा पायल की धातु हमेश पैरों से रगड़ाती रहती है जो स्त्रियों की हड्डियों के लिए काफी फायदेमंद है। इससे उनके पैरों की हड्डी को मजबूती मिलती है।
Share
Akanksha

हेल्लो मेरा नाम आकांक्षा है और मुझे वेबसाइट पर नए नए टॉपिक पर आर्टिकल्स लिखने का शौक पहले से ही था इसलिए मैंने आकृति वेबसाइट पर लिखने का फैसला लिया और मुझे बहुत मज़ा आता है यहाँ आर्टिकल लिखने में ! आप मेरे आर्टिकल ज़रूर पढ़िए !

Recent Posts

भुट्टे का उपमा बनाने की विधि

उपमा सेहत के लिए काफी हेल्दी माना जाता है अगर इसे सुबह-सुबह बनाकर खाया जाए तो फिर ये सेहत के… Read More

July 16, 2019 1:09 pm

लक्ष्मी के पैर लेकर पैदा होती हैं इस माह में जन्मी बेटी, घर लाती हैं तरक्की और भाग्य

हिन्दू धर्म में लडकीयो को माँ लक्ष्मी का रूप समझा जाता है | अत: हिन्दू धर्मशस्त्रो के अनुसार जिस घर… Read More

July 16, 2019 1:02 pm

महिलाओं में इसलिए बढ़ रही है माइग्रेन की समस्या, इससे होगा फायदा

आज-कल की भागदौड़ वाली लाइस्टाइल में कई लोग मुख्य रूप से महिलाएं माइग्रेन की शिकार हो रही हैं और चिकित्सा… Read More

July 16, 2019 12:53 pm

घर में रसीली जलेबी बनाने की विधि

आपने अक्सर गली-मौहल्ले के नुक्कड़ पर मिलने वाली लाल या नारंगी रंग की कुरकुरी जलेबी का स्वाद जरूर चखा होगा।… Read More

July 15, 2019 5:42 pm

ब्लाउज के गले की आकर्षक डिजाइन

भारतीय महिलाओं के पसंदीदा कपड़ों में सबसे ज्यादा पहनी जाने वाली ड्रेस है साड़ी । इसे देश के हर राज्य… Read More

July 15, 2019 5:35 pm

चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिला रखे इन 7 बातों का खास ध्यान

साल 2019 का दूसरा चंद्र ग्रहण 16 जुलाई यानि कल शाम लगने जा रहा है, जो केवल भारत में ही… Read More

July 15, 2019 11:04 am