अपने घर की साफ सफाई कर कोई व्यक्ति करता है फिर चाहे वो मर्द हो या ओरत सभी यही चाहते है की उनका घर हमेशा साफ रहे सुन्दर रहे और ये सही भी है क्युकी साफ घरो में की माँ लक्ष्मी का वास होता है। Home Remedy Of Salt

शास्त्रों के अनुसार झाड़ू को भी महालक्ष्मी का ही एक स्वरूप माना गया है। साफ सफाई करने से से दरिद्रता रूपी गंदगी को बाहर किया जाता है। इसके साथ साथ जिन घरों के कोने-कोने में भी सफाई रहती है, वहां सकारात्मक उर्जाओ का वास होता है…

कई बार हम साफ सफाई करते हुए भी कुछ बातो का ख्याल नहीं करते है जिसकी वजह से हमे सकारात्मक परिणाम नहीं मिल पते है चलिए आज आपको बताते है कि झाड़ू और पोंछा करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। झाड़ू कहां और कैसे रखें झाड़ू से घर में प्रवेश करने वाली बुरी अथवा नकारात्मक ऊर्जा नष्ट होती है।

यह भी पढ़ें : कहीं आप भी तो घर में इस जगह नहीं रखते झाड़ू? तुरंत हटाएं नहीं तो छा जाएगी गरीबी

सबसे पहले अपनी झाड़ू जो कभी भी खुले स्थान पर न रखे उसे हमेशा छुपा कर रखे खुले स्थान पर झाड़ू रखना अपशुगन मन गया है. दूसरा कभी भी रात को झाड़ू न लगे इससे बढ़ोतरी की बजाय हानि होती है।

ध्यान रखे की भोजन कक्ष में भी झाड़ू ना रखें, इससे घर का अनाज जल्दी खत्म हो सकता है और परिवार के सदस्यों को स्वास्थ्य सबंधी समस्या भी हो सकती है।

Home Remedy Of Salt
Home Remedy Of Salt

दिन में घर के द्वार के पास कभी भी खाडू न रखे. पर रात के समय अपने घर के बाहर हर रोज रात के समय दरवाजे के सामने झाड़ू रखते हैं तो इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं करती है। आपको ध्यान रखना है की ये काम केवल रात के समय ही करना चाहिए।

अपने घर में पोछा आदि करते समय पानी में थोडा नमक डाल ले इससे घर में उपस्तिथ सूक्षम जीवाणु खत्म हो जाते है इसके साथ साथ सकारात्मक उर्जाए घर में प्रवेश होती है. इसीलिए जब भी घर की सफाई करे तो ऊपर दी गयी बातो को जरुर ध्यान रखे इससे आपका घर नकारात्मक उर्जाओ से दूर रहता है.

माना जाता है की सूर्यास्त के बाद झाड़ू लगाना जहां अपशगुन होता है, साथ ही ऐसी मान्यता है कि ऐसा करने से सफाई के साथ हम लक्ष्मी को भी घर से बाहर कर देते हैं जो उनका अपमान है और इसलिए लक्ष्मी रूठकर उस घर से चली जाती है. वहीं झाड़ू पर पैर रखना भी लक्ष्मी का अपमान और दरिद्रता को न्योता देना माना जाता है…!!

अस्वीकरण : आकृति.इन साइट पर उपलब्ध सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए हैं। यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। चिकित्सा परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here