Side Effect Of Sleep On Stomach
Side Effect Of Sleep On Stomach
ad2

सोने का सही तरीका, पेट के बल सोने के नुकसान, Side Effect Of Sleep On Stomach, Sleeping Position In Hindi, Sleeping Position, How To Sleep During Pregnancy

हेलो फ्रेंड्स, हेल्दी रहने के लिए डाइट और एक्सरसाइज के अलावा भरपूर नींद लेना भी बहुत जरूरी हैं। जी हां दिनभर की थकान को दूर करने के लिए आराम बेहद जरूरी है। भरपूर नींद लेने के बाद आपको एनर्जी से भरपूर महसूस होता है। लेकिन हर किसी का सोने का तरीका अलग होता है। कुछ महिलाएं सीधा सोना पसंद करती हैं तो कुछ साइट करवट से तो कुछ को उल्‍टे पेट के बल सोना अच्छा लगता है। शायद आपने नोटिस किया होगा कि ज्यादातर महिलाओं को पेट के बल सोना पसंद करती हैं। उनके अनुसार ऐसे लेटने से उनकी थकान दूर होती है और उन्हें काफी राहत महसूस होती है।

यह भी पढ़ें – क्या आपके भी पेट में होता है बार-बार दर्द, जानिए इसके कारण, लक्षण व उपचार

लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पेट के बल सोने से आपको बहुत सारे नुकसान हो सकते है। जिनके बारे में शायद आपको जानकारी नहीं है। जी हां अगर आपको भी पेट के बल सोने की आदत हैं तो जान लें कि पेट के बल सोने से आपको कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्‍स हो सकती है। ऐसे सोने से आपकी बॉडी का ब्लड सर्कुलेशन सही तरीके से नहीं हो पाता है। साथ ही इस तरह सोने से बॉडी का पॉश्चर नेचुरल तरीके से नहीं रह पाता है। यह पोजिशन पूरे फेस को तकिए में दबा देती है जिससे त्वचा के रोम छिद्र बंद हो जाते हैं। बंद रोम छिद्र के कारण पिंपल, चेहरे पर लकीरें और स्किन संबंधी कई समस्याएं हो सकती हैं। आइए जानें पेट के बल सोना महिलाओं की सेहत को कैसे नुकसान पहुंचा सकता है।

झुर्रियां और पिंपल्स की समस्या

एक्सपर्ट के मुताबिक, पेट के बल सोना ब्यूटी को प्रभावित कर सकता है। दरअसल, पेट के बल सोने से मुंह तकिए के ऊपर होता है, जिसमें की बैक्टीरिया व कीटाणु होते हैं। वहीं, इससे त्वचा को ऑक्सीजन नहीं मिल पाती, जिससे महिलाएं जल्दी झुर्रियां, पिंपल्स, जैसी समस्याओं के घेरे में आ जाती हैं।

Side Effect Of Sleep On Stomach
Side Effect Of Sleep On Stomach

प्रेगनेंसी में हानिकारक

प्रेग्नेंट महिलाओं को भी पेट के बल सोने की मनाही होती है। इससे ना सिर्फ शिशु की सेहत को नुकसान पहुंचता है बल्कि महिलाएं भी भरपूर नींद नहीं ले पाती। एक्सपर्ट, गर्भवती महिलाओं को करवट बदल बदल कर सोने की सलाह देते हैं।

ब्रेस्ट में दर्द

महिलाओं के लिए पेट के बल सोने से उनकी सेहत पर काफी भारी असर पड़ता है, क्योंकि अक्सर पेट के बल सोने वाली महिलाओं की ब्रेस्ट पर असर पड़ता है और ब्रेस्ट पर प्रेशर पड़ने से उसमें दर्द बना रहता है।

यह भी पढ़ें – गर्भावस्था में सोते समय भूलकर भी ना करें ऐसा, बच्चे पर पड़ता है खतरनाक प्रभाव

सिरदर्द

लंबे समय तक पेट के बल से सोने वाली महिलाओं में सिरदर्द की समस्या भी आम देखने को मिलती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि पेट के बल सोने से गर्दन सीधी नहीं हो पाती, जिसके कारण खून की सप्लाई में रुकावट आती है।

पेट की समस्या

पेट की समस्याओं से परेशान रहती हैं तो इसका कारण लंबे समय तक पेट के बल सोना हो सकता है। इसके कारण खाना भी सही से पच नहीं पाता, जिससे पाचन संबंधित समस्याएं भी हो सकती है।

दर्द करता है परेशान

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि पेट के बल सोने से सिर, गर्दन, रीढ़ की हड्डी आदि मे भारी नुकसान होने की संभावना बनी रहती है। क्योंकि पेट के बल सोने से हमारी रीढ़ की हड्डी मुड़ी हुई रहती है जिससे हमारी बॉडी सुन्न हो सकती है। ऐसे में पेट के बल सोने वाली महिलाओं की हेल्थ बिल्कुल भी ठीक नहीं रहती है।

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

अस्वीकरण : आकृति.इन साइट पर उपलब्ध सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए हैं। यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। चिकित्सा परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।

Previous article2 फरवरी से शुरू हो रहे हैं गुप्त नवरात्रि, जानिये घटस्थापना का मुहूर्त
Next articleघर पर बनाएं बेकरी जैसा ब्रेड क्रीम रोल, जानें रेसिपी
Nidhi
I am a freelancer content writer, and I am writing contents for many websites since very long time.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here