Home Remedies for Pyorrhea
Home Remedies for Pyorrhea
ad2

पायरिया क्या है, पायरिया के कारण, पायरिया के लक्षण, पायरिया का घरेलु इलाज, पायरिया से राहत पाने के घरेलु उपचार, pyria kya hai, Pyria ke karan, What is Pyorrhea, Causes of Pyria, payriya ke lakshan, Symptoms of Pyria, home remedies for pyria, Pyria ka gharelu ilaj

Home Remedies for Pyorrhea : पायरिया से पीड़ित व्यक्ति को ठण्ड के दिनों में पानी पीने में समस्या होती है और कभी कभी तो ठंडी हवा के चलने से ही उसके दांतों में भी सिरहन उत्पन्न होने लगती है। पायरिया व्यक्ति के लिए एक बहुत बड़ी समस्या बन सकता है, अगर इसका समय रहते इलाज ना कराया जाए। क्योंकि मुंह से बदबू आने से लोग आपसे दूर रहने लगते हैं या रिश्ते को टूटने से बचाने के लिए आपको परिवार और दोस्तों आदि से दुरी बनाए रखनी पड़ती है।

पायरिया क्या है (pyria kya hai)

What is Pyorrhea : पायरिया मसूड़े की एक बीमारी हैं, जो कि आमतौर पर मसूड़ों के कमजोर होने पर होती है और इस वजह से मसूड़ों से खून का रिसाव होने लगता है। पायरिया एक तरह से मसूड़े को स्वच्छ ना रखने के कारण होता है, जिसमे व्यकि अपने दांतों की सफाई नहीं करता और फिर मसूड़ों के आसपास बैक्टीरिया का विकास होने लगता है।

यह भी पढ़ें – दांतों में पहनती हैं ब्रेसेस तो ध्यान में रखें ये बातें

पायरिया (Pyorrhea / pyriya / payriya) के होने से मुंह से बदबू आने लगती है। ऐसी स्थिति को बुरी-सांस की समस्या (Bad Breath Problem) कहा जाता है । इस बीमारी के चलते खाना खाते समय या ब्रश करते समय रक्त स्त्राव होने लगता है। पायरिया दांतों के आसपास की मांसपेशियों को संक्रमित करके और मसूड़ों में संक्रमण करके उन्हें नुकसान पहुंचाता है।

पायरिया के कारण (Pyria ke karan)

Causes of Pyria : वैसे तो पायरिया का मुख्य कारण बैक्टीरिया होता है। ये बैक्टीरिया प्लाक बनाते हैं, जिन्हें साफ न करने पर ये टार्टर बन सकते हैं और पायरिया का रूप ले सकते हैं। इसके अलावा भी पायरिया के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं –

  • धूम्रपान करना
  • मधुमेह की समस्या होना
  • लड़कियों और महिलाओं में हार्मोनल परिवर्तन के कारण
  • मधुमेह की कुछ दवाओं के कारण जो लार के प्रवाह को कम करती हैं
  • कुछ बीमारियां, जैसे कि एड्स आदि
  • आनुवंशिक के कारण भी
पायरिया क्या है, पायरिया के कारण, पायरिया के लक्षण, पायरिया का घरेलु इलाज, पायरिया से राहत पाने के घरेलु उपचार, pyria kya hai, Pyria ke karan, What is Pyorrhea, Causes of Pyria, payriya ke lakshan, Symptoms of Pyria, home remedies for pyria, Pyria ka gharelu ilaj
Home Remedies for Pyorrhea

पायरिया के लक्षण (payriya ke lakshan)

Symptoms of Pyria : इसके शुरूआती लक्षण मसूडो की सूजन जैसे होते है| दांतों को कम सहारा मिलने के कारण दांत ढीले हो जाते है| और अंत में गिरने लगते है| वयस्कों के दांत गिरने का मुख्य कारण पायरिया ही होता है| मसूडो की यह बीमारी छोटे बच्चों को कम होती है| लकिन किशोरावस्था की उम्र में इसके विकसित होने की संभावना बढ़ जाती है|

  • कुछ खाने, चबाने के समय दर्द होना
  • मसूडो में सूजन आना
  • मसूडो पर हाथ लगाने पर दर्द महसुस होना
  • मसूडो का रंग लाल – बैगनी हो जाना
  • मसूडो से खून बहना या हल्के ब्रश करने पर भी खून आना
  • मुँह का स्वाद बिगड़ना
  • सांस के साथ मुँह से बदबू आना
  • दांतों का हिलना शुरू होना

यह भी पढ़ें – ये लक्षण बताएंगे की आपके शिशु को निकलने वाले हैं दांत

पायरिया से राहत पाने के घरेलु उपचार (home remedies for pyria)

आंवला का मंजन बनाए

पायरिया के इलाज (pyria ka ilaj) के लिए आंवला एक अच्छा विकल्प है। इसका उपयोग करने के लिए इसे किचन में चूल्हे पर आग की आंच में भून लें और फिर उसमे थोड़ा सा सेंधा नमक मिलाकर पीस लें। अब इस मिश्रण को कपडे से छान ले। छानने के बाद इस मिश्रण को मंजन की तरह इस्तेमाल करें और रोजाना नियमित रूप से सुबह उठकर इस मंजन से दांत को साफ़ करें। इससे आपको बहुत फायदा मिलेगा।

संतरे या नारंगी के छिलके

जब भी संतरों का मौसम आए आप नारंगी के छिलकों को उतारकर उसे छाया में सुखा लें। और बाद में इन छिलकों को पीसकर उसका चूर्ण बना लें। फिर नियमित सुबह इस चूर्ण से अपने दांतों का मंजन करें। कुछ ही दिनों में आपके दांत चमकने लगेगें। और ये बीमारी भी दूर हो जाएगी।

यह भी पढ़ें – बच्चों के दांत निकलें तो इन बातों का रखें ख्याल

लहसुन और सरसों का तेल

20 लहसुन की कली ले और उसे 150 ml सरसों के तेल में डालकर अच्छे से गरम कर लें। मिश्रण को ठंडा होने पर कपडे से छान ले। आपका मंजन तैयार है। अब 3 ग्राम अजवाइन को तवे पर सेंक ले और 15 ग्राम सेंदा नमक में मिलाकर पीस ले। जब भी आप ऊपर बताये हुए मंजन से दांत साफ़ करेंगे तब इस मंजन को प्रयोग में लाने से पहले उसमे थोड़ा अजवाइन और सेंधा नमक वाला मिश्रण दाल दें, उसके बाद मंजन करें। इससे जल्द ही पायरिया की समस्या खत्म हो जाएगी।

देशी घी

देशी घी हमारे दांतों की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। ये पायरिया को जड़ से खत्म करता है। इसके लिए देसी घी में कपूर को मिलाकर इसका पेस्ट बना लें। और रोज सुबह और रात दो समय अपने दांतों पर इसे मलें। कुछ ही दिनों में पायरिया ठीक हो जाएगा।

पायरिया क्या है, पायरिया के कारण, पायरिया के लक्षण, पायरिया का घरेलु इलाज, पायरिया से राहत पाने के घरेलु उपचार, pyria kya hai, Pyria ke karan, What is Pyorrhea, Causes of Pyria, payriya ke lakshan, Symptoms of Pyria, home remedies for pyria, Pyria ka gharelu ilaj
Home Remedies for Pyorrhea

प्याज का टुकड़ा

प्याज का एक छोटा टुकड़ा ले और इसे तवे पर गरम करें। गरम करने के बाद इस टुकड़े को अपने दांतों के नीचे दबा कर रखें और 10-15 मिनिट तक ऐसे ही रहने दें। जब मुंह में लार एकत्रित होने लगे तब इस लार को पुरे मुंह में घुमाए और फिर थूक दें। इस प्रक्रिया को दिन में 4-5 बार करें और 8-10 दिन तक रोजाना करते रहें। ऐसा करने से मुंह के सभी कीटाणु मर जाएंगे और पायरिया भी पूर्ण रूप से खत्म हो जाएगा।

नमक से दांत की मालिश

दांतों की नमक से मालिश करने से पायरिया और मसूड़ों से संबंधित अन्य समस्याओं का इलाज किया जा सकता है। सेंधा नमक ले और इसे सरसों के तेल में मिला दें। अब इस मिश्रण से रोज़ दांतों की मालिश करें। इससे आपको दांतों और मसूड़ों से जुडी समस्याओं से अवश्य छुटकारा मिलेगा।

यह भी पढ़ें – ये हैं दांतों में कैविटी के 10 संकेत, हो जाइये सावधान !

कड़वा नीम

नीम की कुछ पत्तियों को धो कर एक बर्तन में लेकर उसे अच्छी तरह से जला लें और उस बर्तन को धक दें। कुछ देर बाद नीम की बनी हुई राख में सेंधा नमक डालकर चूर्ण या पाउडर बना लें। इस चूर्ण से रोज़ाना 3-4 बार मंजन करें और फिर अच्छे से कुल्ला करें।

अरंडी का तेल

200ml अरण्डी का तेल लें और इसमें 5 ग्राम कर्पूर व 100ml शहद को अच्छी तरह से घोल कर एक मिश्रण बना लें। अब इस मिश्रण को कटोरी में लेकर नीम के दातून को इसमें भिगो कर इससे दांत को साफ़ करें। कुछ दिनों तक लगातार ऐसा करने से पायरिया की समस्या से पूरी तरह से राहत मिल जाएगी।

यह भी पढ़ें – बिना पैसे खर्च करे इन घरेलू तरीकों से पाये दांतों के पीलेपन से छुटकारा

विटामिन C से भरपूर खाद्य पदार्थ

खट्टे पदार्थ विटामिन का अच्छा स्त्रोत माना जाता है, जिसमे पाया जाने वाला एस्कॉर्बिक एसिड हमारे शरीर में सफ़ेद रक्त कोशिकाओं की कार्य-क्षमता को बढ़ाने में बहुत प्रभावी होता है। इसके अलावा, यह पोषक-तत्व मसूड़ों की समस्या और मसूड़ों के घाव के उपचार के लिए भी प्रभावी होता है। मगर इस बात का ध्यान रखे कि हाई-विटामिन-C लेने के लिए शराब आदि के सेवन से बचे, क्योंकि इस तरह के खाद्य और पेय पदार्थ के सेवन से आपका मुंह सूख सकता है।

कैल्शियम से भरपूर खाद्य पदार्थ

हमारे दांत कैल्शियम के बने होते है। जब भी हमारे शरीर में कैल्शियम की कमी होती है, तो हमारे दांत खराब होने शुरू हो जाते हैं। इसलिए आपको अपने आहार में कैल्शियम से भरपूर पदार्थ को भी शामिल करना चाहिए। ताकि कैल्शियम पायरिया के खिलाफ आपको राहत पंहुचा सके, क्योंकि कैल्शियम की एक अच्छी मात्रा दांतों को मजबूत बनाती है। दांतों और मसूड़ों की रक्षा के लिए आप दूध, अंडे, दही, पनीर आदि का सेवन कर सकते हैं, क्योंकि इनमें कैल्शियम मौजूद होता है।

Home Remedies for Pyorrhea
Home Remedies for Pyorrhea

पायरिया से बचने के उपाय (Prevention for Pyria)

  1. रोज सुबह और रात को सोने से पहले कम से कम 3 मिनट तक ब्रश करना चाहिए।
  2. रोजाना फ्लॉस करना चाहिए। अपने डेंटिस्ट से फ्लॉस करने के सही तरीके के बारे में पूछ सकते हैं।
  3. हमेशा फ्लोराइड टूथपेस्ट के साथ ही ब्रश करें।
  4. नरम व मुलायम ब्रिसल वाले टूथब्रश का ही उपयोग करें।
  5. कम से कम हर 3 से 4 महीने में अपने टूथब्रश को बदल दें। पुराना हो चुका टूथब्रश मसूड़ों को खराब कर सकता है।
  6. स्वस्थ आहार खाएं। चीनी से बने स्नैक्स और जंक फूड से बचें। ऐसे खाने से दांतों पर प्लाक जमा हो सकता है, जो पायरिया का कारण बन सकता है।
  7. धूम्रपान न करें। सिगरेट पीने और तंबाकू चबाने से ये मुंह की जलन का कारण बन सकते हैं और मसूड़ों व दांतों के लिए हानिकारक होते हैं।
  8. समय-समय पर डॉक्टर से चेकअप करवाते रहें।
  9. वर्ष में कम से कम दो बार दांत अवश्य साफ करवाएं। इससे पायरिया से जुड़ें जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।

कुछ अन्य घरेलु नुस्खे (Pyria ka gharelu ilaj)

  1. चुटकी भर सादा नमक चुटकी भर हल्दी में चार पांच बुंद सरसों का तेल मिला कर उंगली से दांतों पर लगाकर 20 मिनट तक रखें लार आवे तो थूकते रहें पायरिया एक ही दिन में ठीक हो जावेगा
  2. नींबू के रस को शहद में मिलाकर मसूड़ो पर मलने से पायरिया में लाभ मिलता है। पानी में नींबू का रस निचोड़कर उससे कुल्ला करने से भी पायरिया से छुटकारा मिलता है।
  3. कपूर को देसी घी में अच्छी तरह से मिला लीजिये और इस पेस्ट से दातों पर अच्छी तरह से मलने से पायरिया से राहत मिलती है ।
  4. सेंधा नमक को सरसों के तेल में डालकर मंजन करने से पायरिया ठीक होता है।
  5. नीम के पत्तो को अच्छी तरह धूप में सूखा ले फिर उसमे सेंधा नमक डाल के उसका महीन चूर्ण बना ले | और हलके से उँगलियों से ब्रश के पश्चात दांतों और मसूड़ों पर घिसें उसके बाद कुल्ला करे यह उपचार पायरिया रोग से बचाने में सहायक होगा ।

अस्वीकरण : आकृति.इन साइट पर उपलब्ध सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए हैं। यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। चिकित्सा परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

Previous articleनवरात्रि के पांचवे दिन होती है माँ स्कंदमाता का पूजन, जानिए पूजन विधि, कथा और आरती | Maa Skandmata Vrat Katha
Next articleबासी रोटी के कटलेट बनाने की विधि | Basi Roti Cutlet Recipe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here