सर्दियों में रोजाना एक अमरूद खाने से मिलते हैं इतने सारे फायदे

0
2215

अमरूद एक ऐसा फल जो ना सिर्फ सस्ता होता है, बल्कि हर किसी का फेवरेट भी होता है. अमरूद के औषधीय गुण है जो सामान्य मिलने वाले फल अमरूद में प्रोटीन, विटामिन और फाइबर भरपूर होता है जबकि कोलेस्ट्रॉल ना के बराबर। यह पेट को जल्दी भर देता हैं, जिससे आपको जल्दी भूख नहीं लगती। Health Benefits Of Guava

शुगर की मात्रा कम होने की वजह से यह डायबिटीज के मरीज के लिए लाभदायक है। इसके अलावा यह हरा और मीठा फल सेहत से जुड़ी कई समस्याओं को दूर रखने में सक्षम है। अमरूद हमारे देश का एक प्रमुख फल है. हल्के हरे रंग का अमरूद खाने में मीठा होता है.

यह भी पढ़ें – सुबह पानी में हल्दी मिलाकर पीने से होते है ये फायदे

लोग घरों में भी इसका पेड़ लगाते हैं. पर बेहद सामान्य फल होने के कारण ज्यादातर लोगों को पता ही नहीं होता है कि ये स्वास्थ्य के लिहाज से कितना फायदेमंद होता है. अमरूद की तासीर ठंडी होती है. ये पेट की बहुत सी बीमारियों को दूर करने का रामबाण इलाज है.

इसके बीजों का सेवन करना भी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है. अमरूद में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा होती है जिससे अनेक बीमारियों में फायदा होता है.

Health Benefits Of Guava in Hindi
Health Benefits Of Guava in Hindi

सुपर फूड है अमरूद

अमरूद सेहत के लिए काफी लाभदायक है। इसकी गुणों की वजह से इसे सुपर फूड भी कहा जाता है। अमरूद में मैग्नीज, पोटैशियम, विटामिन, वटामिन सी, मिनरल, लाइकोपीन, फाइबर मिलते हैं।

इससे अमरूद को आयुर्वेद में भी खास मुकाम हासिल है। स्वाद में भी ये फल लाजवाब है। लोग इसे खूब पसंद करते हैं। अमरूद में कई गुणकारी खूबियां विद्यमान हैं।

अमरूद खाने के फायदे

यह भी पढ़ें : चिया बीज के फायदे, उपयोग और नुकसान

वजन घटाने में मददगार

अमरूद खाने में टेस्टी होने के साथ-साथ वजन कम करने में भी मददगार है। इसमें कैलोरी बहुत कम और फाइबर ’यादा होता है। एक कम अमरूद में 112 कैलोरी होती है जिससे बहुत समय तक भूख का अहसास नहीं होता और धीरे-धीरे वजन भी कम होना शुरू हो जाता है।

कैंसर से करे बचाव

अमरूद में एंटीऑक्सीडेंट लाइकोपीन भरपूर मात्रा में होता है जो बॉडी में कैंसर सैल को बढऩे से रोकने का भी काम करता है।

health benefits of guava
health benefits of guava

आंखों की रोशनी बढ़ाएं

विटामिन ए आंखों को स्वस्थ रखने का काम करता है। अमरूद में पाए जाने वाले पोषक तत्व मोतियाबंद बनने की संभावना को कम करते है। इसे खाने से कमजोर आंखों की रोशनी बढऩे लगती है।

प्रतिरोधक क्षमता मजबूत

विटामिन सी शरीर में रोगों से लडऩे की क्षमता को मजबूत बनाता है लेकिन आप शायद यह नहीं जानते कि संतरे के मुकाबले अमरूद में चार गुणा ’यादा विटामिन सी होता है। इससे खांसी,जुकाम जैसे छोटी-मोटी इंफैक्शन से बचाव रहता है।

ब्लड प्रैशर कंट्रोल

इसमें मौजूद फाइबर और पोटाशियम ब्लड में कोलेस्ट्राल कंट्रोल करने में मददगार है। अपरूद खाने से दिल की धड़कन और ब्लड प्रैशर नियमित रहता है।

यह भी पढ़ें – मखाना के अद्भुत फायदे जानकर हैरान हो जाओगें ।

दांत करे मजबूत

दांत और मसूढों के लिए भी अमरूद बहुत फायदेमंद हैं। मुंह के छाले को दूर करने के लिए अमरूद की पत्तियां चबाने से राहत मिलती है। अमरूद का रस घाव को जल्दी भरने का काम करता है।

तनाव करें कम

मैग्निशियम तनाव के हार्मोंस को कंट्रोल करने का भी काम करता है जो अमरूद में भरपूर मात्रा में होता है। दिन भर की थकावट दूर करना चाहते हैं तो अमरूद खाएं। इससे मानसिक रूप से थकान नहीं होती।

sugar

डायबिटीज कंट्रोल

अमरूद में मौजूद फाइबर डायबिटीज कंट्रोल करने में भी मददगार है जो बॉडी में शर्करा की मात्रा को संतुलित तरीके से अवशोषित करने का काम करता है। इससे खून में शूगर की मात्रा में जल्दी से बदलाव नहीं होता।

एंटी एजिंग गुण

एंटी एजिंग गुणों से भरपूर अमरूद स्किन के डैमेज सैल की मरम्मत कर उसे हैल्दी रखता है, जिससे जल्दी झुर्रियां व झाइयां भी नहीं पड़ती। इसकी पत्तियों को पीसकर पेस्ट बनाए फिर आंखों के नीचे लगाएं। इससे आंखों की सूजन और काले घेरे सही होंगे।

यह भी पढ़ें – होंठों को फटने से बचाने के लिए अपनाएं ये उपाय

वीर्यशक्ति में वृद्धि

अमरुद फल को छिलकों सहित पीसकर उसमें दूध मिलाकर छान ले. फिर मिश्री मिलाकर पीने से वीर्य में वृद्धि होगी.

मुंह के छालों से मुक्ति

मुहं के छालों से मुक्ति पाने के लिए अमरूद मददगार है। पेट दर्द से जुड़ी कई परेशानियों से अमरूद छुटकारा दिलाता है। पेट में दर्द है तो अमरूद में नमक मिलाकर खाने से राहत मिलती है।

सांसों की दुर्गंध

मुंह से दुर्गंध आती हैं तो अमरूद की कोमल पत्तियों को चबाएं।

Health Benefits Of Guava
Health Benefits Of Guava

पेट संबंधी परेशानियां

अगर आप अमरूद का सेवन काले नमक के साथ करते हैं तो इससे पाचन संबंधी परेशानी दूर होती है। बच्चे के पेट में कीड़े पड़ गए हैं तो उन्हें अमरूद खाने को दें। कब्ज की समस्या है तो खाली पेट पका हुआ अमरूद खाएं। पित्त की समस्या में भी अमरूद खाना काफी फायदेमंद है। डायरिया फैलाना वाले बक्टिरिया को भी अमरूद की पत्तियां रोकती हैं। अमरूद की पत्तियों की चाय पीने से दस्त लगने की समस्या खत्म होती है। अमरूद की कोमल पत्तियों को चबाने से मुंह में छाले में आराम मिलता है।

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here