पीरियड्स के दिनों में धोती है बाल तो जान लें नुकसान | Hair Wash During Periods In Hindi

0
7

पीरियड्स हर माह लड़कियों व महिलाओं को होने वाली एक आम प्रक्रिया है। इस दौरान महिला के प्राइवेट पार्ट से रक्त का प्रवाह होता है, जो की शरीर में मौजूद विषैले पदार्थो को बाहर निकालने में मदद करता है। ऐसे में इस दौरान लड़कियों और महिलाओं को अपनी अच्छे से केयर करने के लिए कहा जाता है।

पहली बार पीरियड्स आने के दौरान आपकी मम्मी, दादी, नानी, बड़ी बहन, आपको कोई न कोई सलाह भी देती हैं, इस दौरान अपना ध्यान कैसे रखना चाहिए, और इस दौरान क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए। Hair Wash During Periods In Hindi

Read – मासिक धर्म के समय दर्द को दूर करने के अचूक घरेलु नुस्खे

ऐसे ही पुराने समय से ही पीरियड्स के दौरान बाल न धोने की सलाह दी जाती है, और इसे लेकर अलग अलग तरह की बातें भी बोली जाती है। लेकिन इसके पीछे की असली वजह के बारे में कह पाना थोड़ा मुश्किल होता है।

जैसे की पुराने समय में महिलाएं तालाब, नदी अदि में नहाने के लिए जाती है, और लोग उसी पानी का इस्तेमाल कपडे, बर्तन धोने के लिए करते थे। और यदि पीरियड्स के दौरान महिला उस पानी सिर धोती थी या नहाती थी तो लोग मानते थे इसके कारण पानी दूषित हो जाता है। ऐसे में इस दौरान पानी से दूर रहने की सलाह दी जाती थी।

Hair Wash During Periods In Hindi
Hair Wash During Periods In Hindi

माहवारी यानि पीरियड्स महिलाओं को हर महीने वाली आम प्रक्रिया है, जिसमें शरीर का गंदा खून बाहर निकल जाता है। यही कारण है इस दौरान महिलाओं को अपना अच्छी तरह ध्यान रखने के लिए कहा जाता है। वहीं पुराने समय से ही पीरियड्स के दौरान बाल न धोने की सलाह दी जाती है लेकिन आजकल की महिलाएं इसे गलत मानकर बाल धो लेती हैं, जो कि गलत है।

आज हम आपको यही बताएंगे कि पीरियड्स में बाल धोने चाहिए या नहीं…

Read – गर्भावस्था में खाइए नारियल, मिलेंगे इतने सारे फ़ायदे

पीरियड्स में बाल धोएं या नहीं? :

दरअसल, पीरियड्स के दौरान अंडे टूटते हैं और उसका गंदा खून शरीर से बाहर निकलता है। ऐसे में अगर आफ पीरियड्स दौरान में आप बाल धोते हैं तो इससे बॉडी का टेम्प्रेचर ठंडा हो जाएगा। मगर, पीरियड्स के दौरान शरीर को गर्म रखने की जरूरत होती है, ताकि पेट की गंदगी अच्छी तरह साफ हो जाए। ऐसे में इस दौरान ज्यादा नहाने या बाल धोने से बॉडी का टेम्प्रेचर कम हो जाता है, जिसके कारण शरीर की गंदगी अच्छी तरह निकल नहीं पाती।

Hair Wash During Periods In Hindi
Hair Wash During Periods In Hindi

कैंसर का बन सकती है कारण :

यही नहीं, धीरे-धीरे यह गंदगी गांठें बन जाती है, जो यूट्रस से जुड़ी बीमारियों के अलावा कैंसर का कारण भी बन सकती है।

खुलकर नहीं होती ब्लीडिंग :

सिर धोने से शरीर तापमान कम हो जाता है, जिसके कारण ब्लीडिंग खुलकर नहीं हो पाती। इसके कारण पेट में दर्द की समस्या भी अधिक हो सकती है। वहीं यह गर्भाशय में थक्को का रूप ले लेगी जो बाद में आपके लिए परेशानी का कारण बन सकती है।

Read : प्रेग्नेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के उपाय

इंफेक्शन की भी हो सकती है समस्या :

पीरियड्स में नहाने या बाल धोने से विषैले पदार्थ पूरी तरह से बाहर नहीं निकलते, जिसके कारण इंफेक्शन, पेट में तेज दर्द, जैसी परेशानियों के चांसेस बढ़ जाते हैं।

कब धोने चाहिए बाल?:

हर महिला का माहमारी टाइम अलग-अलग दिन का होता है यानि किसी को 5 तो किसी को 7 दिन तक पीरिड्स रहते हैं। ऐसे में कम से कम 3 दिन तक बाल ना धोएं। आप पीरिड्स के आखिर के दिनों में बाल धोएं।

गर्म पानी का करें इस्तेमाल :

अगर आप इस दौरान नहाने व सिर धोने से परहेज नहीं कर सकती तो इसके लिए हल्के गुनगुने पानी का यूज करें। ऐसा करने से पीरियड्स के दौरान होने वाली परेशानी कम होती है। इससे ब्लड फ्लो बेहतर होता है, और शरीर को आराम भी मिलता है।

Keywords : Hair Wash During Periods in hindi, side effects of washing hair during periods, periods mein kis din baal dhona chahiye, period ke kitne din baad baal dhona chahiye, do not wash your hair during periods, how your period affects your hair, bal kis din dhona chahiye, period me kab nahana chahiye, effects of washing hair during period

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here