हेल्लो दोस्तों, आंवला सेहत (Benefits of Amla) की खान होता है। हिंदू धर्म में आंवले को लेकर यह भी कहा जाता है कि इसकी उत्पत्ति भगवान विष्णु के आंसू से हुई थी। हिंदू मान्यताओं में भी आंवले का बेहद महत्वपूर्ण स्थान है। इसलिए आंवले के पेड़ की पूजा भी की जाती है। आंवले का सेवन कई तरह से किया जा सकता है। इसे कच्चा भी खाया जाता है और इसका जूस भी काफी फायदेमंद होता है। इसके साथ ही आंवले का अचार, मुरब्बा (Murabba) और जेम भी खाया जाता है। जब हमें बेहतर इम्युनिटी (Immunity Booster) की जरूरत है, ऐसे में यह और भी उपयोगी हो जाता है। इम्युनिटी बढ़ाने के साथ यह कई बीमारियों की रामबाणऔषधि है।

ये भी पढ़िए : आंवला नवमी, जानिये इसकी पूजा विधि, कथा और महत्व

आंवले में पाये जाने वाले पोषक तत्व शरीर की रक्षा कवच की तरह कार्य करते हैं। इसमें सर्वाधिक मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है जो रोग प्रतिरोधक (Immunity) क्षमता बढ़ाने में काफी मददगार साबित होता है। साथ ही आंवला सेहत के साथ ही सौंदर्य का भी काफी ख्याल रखता है। आंवले के सेवन से बाल मजबूत होते है और इसमें पाया जाने वाला विटामिन सी चेहरे पर निखार लाता है। बदलते मौसम में आंवले के सेवन से वायरल इंफेक्शन दूर रहता है। इसके साथ ही आंवले के सेवन के कई और भी होते है। पोषक तत्वों के लिहाज से आंवला बेहद समृद्ध है। इसमें विटामिन सी, विटामिन एबी कॉम्पलेक्स, आयरन, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेड, फाइबर, डाययूरेटिक एसिड, कैल्शियम जैसे उपयोगी तत्व होते हैं।

Benefits of Amla
Benefits of Amla

नियंत्रित रखता है कोलेस्ट्राॅल :

आंवले के जूस के नियमित सेवन से एक तरफ जहां शरीर स्वस्थ रहता है। वहीं यह कोलेस्ट्राॅल के स्तर को भी नियंत्रित रखता है। आंवले में पाया जाने वाले एमिनो एसिड और एंटीऑक्सीडेंट दिल की सेहत का भी ध्यान रखते हैं। नियमित रूप से आंवले का जूस पीने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है और शरीर सेहतमंद रहता है. इसमें पाया जाने वाला एमिनो एसिड और एंटीऑक्सीडेंट की वजह से दिल सुचारू रूप से काम करता है

बालों में बनाये मजबूत :

आंवले में प्रचुर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। जिससे यह बालों को मजबूत करता है। साथ ही आंवला समय से पहले बालों के सफेद होने की समस्या को भी दूर करता है। इसके साथ ही एक आंवला रोज खाने से बालों की वृद्धि भी होती है। आंवले में पाये जाने वाले एंटीबैक्टीरियल गुण रूसी की समस्या को भी दूर करते हैं। बालों से जुड़ी समस्याओं जैसे इनका झड़ना, डैंड्रफ, दो मुंहें बालों की समस्या से भी निजात दिलाता है।मान्यताओं के मुताबिक, इसमें वास्तुदोष दूर करने का गुण भी होता है। 

ये भी पढ़िए : इन बीमारियों में लाभदायक है आँवला, इस तरह करें इस्‍तेमाल

दिमाग को करता है तेज :

आंवला मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए भी बेहद लाभकारी होता है। आंवला रक्त में आयरन को बढ़ाता है। जिससे मस्तिष्क को ऑक्सीजन प्रचुर मात्रा में मिलती है और इससे याद्दाश्त में भी बढ़ोत्तरी होती है। आंवला स्मरण शक्ति को बढ़ाने के साथ ही एकाग्रता में भी इजाफा करता है।

हड्डियों को बनाता है मजबूत :

आंवले में कैल्शियम भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। आंवला का जूस पीने से जोड़ों के दर्द में भी राहत मिलती है। आंवले में कैल्शियम की अधिकता के चलते हड्डियां भी मजबूत होती हैं।

चेहरे पर लाता है निखार :

आंवले के सेवन से चेहरे पर भी निखार आता है। इसमें पाये जाने वाले विटामिन सी झुर्रियों को भी दूर करने में बेहद मददगार साबित होता है। आंवले में एंटी एजिंग, एंटी ऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल तत्व भरपूर मात्रा में पाये जाते हैं। जिससे त्वचा की रंगत में सुधार होता है। साथ ही यह त्वचा को जवां बनाये रखता है।

Benefits of Amla
Benefits of Amla

आंखों की रोशनी में होती है बढ़ोत्तरी :

आंवले में पाया जाने वाला एंटी ऑक्सीडेंट गुण रेटीना को बेहद लाभकारी होता है। साथ ही इसमें पाये विटामिन सी के चलते आंखों की समस्यायें दूर होती है और आंखों की रोशनी में भी इजाफा होता है। आंवले के पत्ते और फल का पेस्ट आंखों के ऊपर लगाएं। इससे आंख आने की परेशानी से राहत मिलती है। आंवले के पानी को गुलाब जल में मिलाएं। इससे आंखें धोने से चश्मा लाभ मिलेगा। आंवले का इस्तेमाल किसी भी रूप में किया जा सकता है। आप चाहें तो कच्चे आंवले का रस भी पी सकते हैं। आंवले का रस सुबह के समय खाली पेट ही पीना चाहिए।

डायबिटीज को करता है नियंत्रित :

आंवला खाना डायबिटीज में काफी फायदेमंद होता है, वहीं इसमें क्रोमियम तत्व पाया जाता है, जो कि इंसुलिन हार्मोन को मजबूत करता है और शुगर के स्तर को नियंत्रित करता है। डायबिटिक मरीज को आंवला से बहुत लाभ होता है। आवला इंसुलिन होरमोंस को सुदृढ़ करता है। यह खून में सुगर की मात्रा को नियंत्रित करता है। आंवला के रस में शहद मिलाकर सेवन करने से डायबिटिक मरीज को बहुत फायदा होता है।

ये भी पढ़िए : कब है आमलकी एकादशी व्रत, जानें शुभ मुहूर्त, व्रत कथा और महत्व

मूत्र संबंधी विकारों से राहत :

आंवला का चूर्ण हमे मूत्र संबंधी विकारों से राहत दिलाता है। आंवला के छाल और इसकी पत्तियों को पानी में उबाल कर छान लें और उसका सेवन करें तो किडनी में होने वाले संक्रमण में बहुत आराम मिलता है। पेशाब का संक्रमण होने पर एक चम्मच आँवले के चूर्ण में दो से तीन इलायची के दाने पीसकर मिलाएँ। इसे पानी के साथ सेवन करें। यह लाभ पहुंचाता है।

Benefits of Amla
Benefits of Amla

माहवारी की समस्या :

आंवले में पाए जाने वाले मिनरल्स और विटामिन मासिक धर्म में ऐंठन की समस्या से राहत दिलाने में और माहवारी को नियमित करने में भी मददगार हैं। चूंकि आंवले में विटामिन-सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है, इसलिए यह प्राकृतिक प्रतिरक्षा तंत्र को मज़बूत बनाने वाला माना जाता है। महिलाओं को माहवारी की समस्या में आंवला से बहुत राहत मिलती है। माहवारी का देर से आना, ज्यादा रक्तस्राव होना, रक्त का जल्दी-जल्दी आना या कम आना, पेट में दर्द होना, ऐसी परेशानियों में आंवला का सेवन फायदेमंद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here