Benefits and Side Effects of Sattu
Benefits and Side Effects of Sattu

सत्तू खाने से क्या होते है फायदे, Benefits and Side Effects of Sattu, Benefits of Sattu, Sattu for weight loss, Sattu for strong liver, Sattu for energy, Sattu for Loo, Sattu for Anemia, Sattu for Diabetes

हेलो फ्रेंड्स, सत्तू का नाम तो हर किसी ने सुना है लेकिन इसके फायदे सुनकर आप आज ही सत्तू का उपयोग शुरू कर देंगे क्योकि इसके प्रयोग ना केवल टेस्ट के लिए बल्कि शरीर के फायदे के लिए किया जाता है आपको बता दे की सत्तू का इस्तेमाल सबसे ज्यादा गर्मियों में बनाया जाता है इसे शरीर को ठण्डक मिलती है बल्कि पेट की कई बीमारिया मिट जाती है अगर आपको भी कोई कब्ज या गैस की समस्या है तो आज ही इसका इस्तेमाल करे तो आईये जानते है इसके फायदे –

सत्तू बिहार में बहुत प्रसिद्ध है. सत्तू से कई रेसिपी बनाई जाती है. जैसे – सत्तू का शरबत, सत्तू के पराठे, सत्तू की बर्फी, सत्तू के लिट्टी चोखा, सत्तू की कचौड़ी ऐसी बहुत सी रेसिपी बनाई जाती है. इसको बनाना बहुत ही आसान होता है सत्तू का स्वाद भी बहुत अच्छा लगता है.

सत्तू खाने के फ़ायदे (Benefits of Sattu)

मोटापा को कम करता है (Sattu for weight loss)

सत्तू में सम्पूर्ण सभी तत्व पाए जाते हैं. सत्तू को खाने या पीने से लम्बे समय तक भूख बिल्कुल नहीं लगती है. जो वजन कम करने में व्यक्ति की काफी मदद करता है.

लिवर मजबूत बनता है (Sattu for strong liver)

सत्तू प्रोटीन का बढ़िया स्त्रोत है इसका सेवन करने से पेट की गड़बड़ियों को ठीक किया जाता है। इसे खाने या पिने से लिवर मजबूत होता है और एसिडिटी की समस्या दूर हो जाती है इसे खाने से कब्ज की समस्या भी नहीं होती तो आज ही उपयोग करें ।

सत्तू से मिलती है एनर्जी (Sattu for energy)

चने के सत्तू में मिनरल्स, आयरन, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस पाया जाता है जो आपके शरीर की थकान को मिटाकर आपको इंस्टेंट एनर्जी देने का काम करता है.

लू से बचाता है (Sattu for Loo)

सत्तू की तासीर ठंडी होने के कारण गर्मियों में इसका सेवन किया जाता है. यह पेट को ठंडा रखने में मदद करता है जिसकी वजह से व्यक्ति को लू नहीं लग पती है. सत्तू शरीर का तापमान को नियंत्रित रखता है, जिससे पेट संबंधी कई बीमारियों से बचाव होता है.

एनीमिया से रखें दूर (Sattu for Anemia)

शरीर में खून की कमी होने से व्यक्ति एनीमिया से पीड़ित हो जाता है. ऐसा में आप रोजाना पानी में सत्तू को मिलाकर पीने से काफी फायदा मिलता है.

डायबिटीज की समस्या (Sattu for Diabetes)

सत्तू मधुमेह से ग्रस्त व्यक्ति के लिए लाभकारी माना जाता है क्योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा काम होती है। स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों की माने तो सत्तू के सेवन से आपके शरीर में ग्लूकोज का अवशोषण कम होता है, जिसके कारण ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहता है।

सत्तू सेवन के नुकसान (Side Effects of Sattu)

  • चने के सत्तू का अधिक सेवन करने से पेट में गैस पैदा होती है. आहार में इसका ज्यादा सेवन न कीजिये.
  • मधुमेह के रोगियों के लिए सत्तू एक तरफ वरदान है वहीं पथरी के रोगियों को सत्तू का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए.
  • चना कोढ़ के रोग में वृद्धि करता है, इसलिए कोढ़ से पीड़ित व्यक्ति को चने के सत्तू का सेवन नहीं करना चाहिए.
  • बारिश के मौसम में चने के सत्तू का सेवन नही करना चाहिए.
  • सत्तू को खाते समय बीच में पानी नहीं पीना चाहिए.
  • सत्तू का सेवन दिन में एक या दो बार से अधिक नहीं करना चाहिए.

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here