शरीर के ये 8 लक्षण इशारा करते हैं महिलाओं में किडनी रोग की तरफ

महिलाएं अपने शारीरिक लक्षणों की तरफ ध्यान देकर शुरूआती दौर में ही किडनी रोग का पता लगा सकती हैं। हालांकि यह जरूरी नहीं है कि ये संकेत बीमारी से ही जुड़े हों। लेकिन अगर ऐसा कुछ हो तो उसे इग्नोर न करके चिकित्सक की सलाह जरूर लीजिए। Signs of Kidney Disease

पिछले कुछ सालों में स्टडीज से यह बात सामने आयी है कि पुरुषों के मुकाबले महिलाएं किडनी रोग से ज्यादा ग्रसित हो रही हैं। और इस वक्त पूरे वर्ल्ड में 19.50 करोड़ महिलाएं किडनी रोग से पीड़ित पायी गयी हैं। महिलाओं में किडनी रोग होने के पीछे मुख्य वजह जो सामने आयी हैं वह है, जल्दी-जल्दी होने वाला यूरिन इंफेक्शन व बार-बार होने वाल गर्भपात।

साथ ही सबसे दुखद बात इस बीमारी की यह है कि इस बीमारी का शुरूआती दौर में पता नहीं चल पाता है। जिसकी वजह से समय पर इलाज ना होने से बीमारी गंभीर रूप धारण कर लेती और बहुत से मामलों में तो मरीज़ की मृत्यु तक हो जाती है। लेकिन यदि महिलाएं अपने शरीर में हो रहे बदलावों पर और कुछ शारीरिक संकेतों पर ध्यान दें तो किडनी रोग का प्रारम्भिक अवस्था में ही पता लग सकता है।

आइए जानते हैं ऐसे 8 संकेत जो महिलाओं में किडनी रोग होने की तरफ इशारा करते हैं।

#1. जैसा कि हम जानते हैं कि किडनी हमारी बॉडी से वेस्ट को पेशाब के रास्ते से बाहर निकालने का काम करती है लेकिन जब किडनी ठीक से काम करना बंद कर देती हैं तो वही वेस्ट हमारी बॉडी में जमा होने लगता है। इसकी वजह से ही हमारे हाथ, पैर, घुटने व चेहरे पर सूजन दिखायी देने लगती हैं।

#2. यदि हमें जल्दी-जल्दी पेशाब आए या बार-बार पेशाब होने जैसा महसूस होने पर पेशाब ना आना। इसके अलावा यूरिन का डार्क कलर का होना या फिर यूरिन करते समय दर्द, जलन व दबाव महसूस होना। से सभी लक्षणा किडनी रोग की तरफ इशारा करते हैं।

#3. शरीर में कमजोरी का एहसास होना, हमेशा थकावट बने रहना या फिर हार्मोन स्तर में जल्दी-जल्दी बदलाव होना। शरीर में ये सभी बदलाव किडनी की बीमारी होने का संकेत देते हैं।

#4. शरीर मे विषैले पदार्थ जमा हो जाने की वजह से त्वचा में खुजली शुरू हो जाती है। स्किन रूखी व खिंचवादार महसूस होने लगती है।

#5. किडनी के सही रूप से काम नहीं करने पर खून में यूरिया का लेवल बढ़ जाता है, जिससे मुंह से बदबू आने लगती है और मुंह का स्वाद भी खराब होना शुरू हो जाता है।

#6. सबसे बड़ा संकेत जो हमारा शरीर देता है कि उस बीमार महिला को अक्सर सांस लेने में तकलीफ होने लगती है, क्योंकि किडनी का रोग होने पर फेफड़ो में तरल पदार्थ जमा होने लगता है।

#7. यदि आप कभी अपने पेशाब में खून का अंश आता देखें या फिर आपको पेशाब में बहुत ज्यादा झाग दिखाई दे, तो तुरंत डॉक्टर के पास बिना देरी किए पहुंच जाना चाहिए।

#8. दवाई लेने के बावजूद भी ब्लड-प्रेशर का अचानक से बढ़ जाना। इस बात की ओर इशारा करता है कि आपके अंदर किडनी का गंभीर रोग जन्म ले चुका है।

This post was last modified on May 8, 2018 6:24 PM

Share
Leave a Comment

Recent Posts

5 जून को लगने वाला है चंद्र ग्रहण, जानिये क्या करें और क्या न करें

हेलो फ्रेंड्स , क्या आपको पता है की इस साल का दूसरा चंद्र ग्रहण 5… Read More

June 3, 2020

लॉकडाउन स्पेशल: बिना ओवन तवा पर इस तरह बनाइये मलाईदार पिज्जा

हेल्लो दोस्तों आज कोरोना वायरस के कारण सभी जगह लॉकडाउन के कारण कामकाज, दूकान और… Read More

June 3, 2020

बुध प्रदोष व्रत रखने से होंगे सभी संकट दूर

हेलो दोस्तों , हम आपको प्रदोष व्रत के बारे में बताने जा रहे है। यह… Read More

June 2, 2020

आखिर निर्जला एकादशी को क्यों कहते हैं भीमसेन एकादशी, जानें वजह

शास्त्रों के अनुसार ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहते है… Read More

June 2, 2020

आलू-सूजी के कटलेट बनाने की विधि

हेलो फ्रेंड्स , आज हम आपके लिए लाये है आलू सूजी कटलेट की रेसिपी। जो… Read More

June 2, 2020

संगीतकार वाजिद खान का निधन, कोरोना वायरस से पीड़ित थे

हेल्लो दोस्तों मशहूर संगीतकार जोड़ी साजिद वाजिद में से वाजिद खान का निधन हो गया… Read More

June 1, 2020