सर्दियों में ऐसे करें बालों की देखभाल, बनी रहेगी इनकी चमक

0
162

हेल्लो दोस्तों हर कोई स्वस्थ और खूबसूरत बाल चाहता है। लंबे, सिल्की और डेंड्रफ फ्री बालों की चाह हर किसी को होती है, लेकिन सर्दियों में बालों की देखभाल करना आसान नहीं होता। सर्दियों में मौसम हमेशा शुष्क रहता है। जहां मौसम में बदलाव से शरीर प्रभावित होता हैं, उसी तरह बाल भी प्रभावित होते हैं और इनकी ज्यादा देखभाल करने की जरूरत पड़ती हैं। Winter Hair Care Tips

ये भी पढ़िए : जानें सर्दियों में कौन सा तेल है बालों के लिए सबसे फ़ायदेमंद

सर्दियों के दौरान बालों में रूखापन आने लगता हैं और इनकी चमक खोने लगती है जिसकी वजह से स्कैल्प भी ड्राई रहती है और बालों में डैंड्रफ की समस्या बनी रहती है। ऐसे में आपको बालों की सही देखभाल करने की जरूरत होती हैं ताकि इनकी चमक बनी रहें। आज हम आपको कुछ ऐसे ही उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप सर्दियों के दौरान अपने बालों को स्वस्थ रख पाएंगी और इनकी अच्छे से देखभाल कर सकेंगी।

नारियल का तेल और नींबू :

प्रदूषण और ठंड के बीच बालों में रुखापन और नमी न होने के कारण कई वायरस और बैक्टीरिया आपके बालों और खोपड़ी पर बैठे रहते हैं। जिस कारण ये आपके बालों को नुकसान पहुंचाने के साथ आपके बालों को कमजोर बनाता है। बालों की नमी को बनाए रखने के लिए आप सर्दी के मौसम में नारियल के तेल और नींबू के रस के साथ अपने बालों को मसाज दे सकते हैं। इससे आप अपने बालों को मजबूत बनाने के साथ स्वस्थ रख सकते हैं।

Winter Hair Care Tips
Winter Hair Care Tips

शैम्पू का कम इस्तेमाल करें :

कई लोगों की ये आदत होती है कि वो हमेशा बालों पर नियमित रूप से शैम्पू का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन अगर सर्दियों के दौरान भी यही आदत रखते हैं तो इससे आपके बालों को नुकसान हो सकता है। आपको बता दें कि शैम्पू में मौजूद तत्व आपकी खोपड़ी से प्राकृतिक तेलों को गायब कर देता है। जिसके कारण आप अपने बालों में रुखापन, खुजली जैसी समस्याओं का सामना कर सकते हैं।

ये भी पढ़िए : बालों के कलर को लम्बे समय तक बरकरार रखने के टिप्स

बालों को हवा से बचाएं :

कई बार सर्द हवाएं आपके बालों को नुकसान पहुंचा सकती हैं। ऐसा इसलिए क्‍योंकि हवा में नमी की कमी के कारण यह आपकी स्‍कैल्‍प को ड्राई और खुजलीदार बना सकती है। जिसके कारण बालों में रूसी की समस्‍या और बालों के झड़ने की समस्‍या हो सकती है। इसलिए आप सर्दियों में अपने बालों को खूब पोषण दें और उनका ख्‍याल रखें। इसमें आप हेयर ऑयलिंग से लेकर स्‍कैल्‍प स्‍क्रबिंग आदि कई चीजें कर सकते हैं। आप जैतून तेल, नारियल तेल और नींबू के रस का मिश्रण अपने बालों में लगा सकते हैं।

बालों को सही तरीके से सुखाएं :

आप अपने बालों को स्‍वस्‍थ रखने के लिए आप अपने बालों को सही तरीके से सुखाएं। आप अपने बालों को सुखाने के लिए कभी भी बालों को तौलिये स न रगड़ें। आप अपने बालों को सुखाने के लिए तौलिये से बालों के एक्‍सट्रा पानी या नमी को निचोड़ें और फिर नेचुरल तरीके से या फिर ब्‍लो ड्रायर से अपने बालों को अच्‍छे से सुखा लें। लेकिन ध्‍यान दें कि आप ब्‍लो ड्रायर से बालों को सुखाने के लिए बालों को कम से कम 15 से 20 सेंटीमीटर दूर रखें।

ये भी पढ़िए : बालों में जूँ और लीख दूर करने के असरदार घरेलू उपाय

हेयर ऑयलिंग और हेयर मसाज :

आप अपने बालों को हेल्‍दी और शाईनी बनाने के लिए सर्दियों में अपने बालों पर नियमित रूप से तेल लगाएं और मालिश करें। इससे आपके बालों और स्‍कैल्‍प को मॉइश्‍चराइज करने में मदद मिलती है और ब्‍लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। आप गुनगुने जैतून के तेल से अपने स्‍कैल्‍प की 20 से 30 मिनट तक आराम से मसाज करें।

बालों को दें पोषण :

आप अपने बालों को पोषण देने के लिए कुछ होममेड मास्‍क ट्राई कर सकते हैं, जो आपके बालों को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करेंगे। इसके अलावा, आप अपने स्‍कैल्‍प में कच्‍चा शहद लगा सकते हैं। इसके बाद आप अपने बालों को तौलिये या शावर कैप से ढक लें और लगभग 30 मिनट रखकर गुनगुने पानी से धो लें। यह आपके बालों को पोषण देगा ओर बालों को बाउंसी बनाने में मदद करेगा।

ये भी पढ़िए : महिलाओं में गंजेपन का कारण और घरेलू उपाय

बालों की देखभाल के लिए घरेलू उपचार –

एक कप आंवले का पाउडर, दो चम्मच केस्टर तेल और एक अंडे को एक साथ अच्छी तरह फेट कर मिला लें। इसे सिर और बालों की त्वचा पर अच्छे से लगाएं। आधे घंटे के बाद हल्के गुनगुने पानी से सिर धो लें।

सर्दी के महीनों में बालों को जितना हो सके उतना ढककर रखें, अन्यथा बाल रूखे हो सकते हैं. जूड़ा, विग्स, वीव्ज स्टाइल बनाएं और हेड स्कार्फ का इस्तेमाल करें.

अस्वीकरण : आकृति.इन साइट पर उपलब्ध सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए हैं। यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। चिकित्सा परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here