भगवान शिव के उपवास में भूलकर भी न करें इन व्यंजनों का सेवन

0
198

हिन्दू धर्म में महाशिवरात्रि का पर्व बहुत श्रद्धा से मनाया जाता है. यह भगवान शिव का मुख्य पर्व है. इस दिन शिव भक्त उपवास रखकर भगवान शिव की आराधना करते हैं. यह पर्व फाल्गुन की चतुर्दशी को पड़ता है. मान्यता है कि इस दिन भगवान शिव ने माता पार्वती से विवाह किया था. Shivratri Vrat Me Kya Na Khaye

इस दिन उपवास और पूजा करके भगवान शिव को प्रसन्न किया जाता है, जिससे भक्तों की सारी मनोकामना पूरी होती है, लेकिन कई बार हम उपवास में कुछ ऐसा खा लेते हैं, जिनका सेवन उपवास में नहीं करना चाहिए.

ये भी पढ़िये – महाशिवरात्रि पर बन रहा है दुर्लभ योग, इन राशियों पर पड़ेगा असर

देश में सभी देवी-देवताओं की पूजन विधि और विधान अलग-अलग हैं. जिस तरह से भगवान गणेश को मोदक का प्रसाद चढ़ाया जाता है, बजरंगबली को बूंदी का भोग लगाया जाता है. ठीक उसी तरह से भांग, धतूरा और बेलपत्र से शिवजी की पूजा करने का विधान है.

मान्यता है महाशिवरात्रि के दिन अगर शिवजी प्रसन्न होते हैं तो भक्त को मनचाहा वरदान देते हैं, लेकिन अगर सही ढंग से इस दिन भगवान शिव का पूजन न हो तो कृपा नहीं मिलती है.

Shivratri Vrat Me Kya Na Khaye
Shivratri Vrat Me Kya Na Khaye

उसी तरह से व्रत करने वाले भक्तों के लिए कुछ विधि-विधान बनें हैं जिनका पालन उन्हें अवश्य करना चाहिए. यहां हम बता रहे हैं तो आइए आपको बताते हैं कि महाशिवरात्रि के उपवास वाले दिन आपको क्या खाना चाहिए और क्या नहीं।

फलों और चाय का सेवन करें :

महाशिवरात्रि के उपवास में चावल, दाल, गेहूं से बने कोई भी खाद्य पदार्थों को नहीं खाना चाहिए. इस उपवास में केवल फल, दूध, चाय, कॉफी आदि का ही सेवन करें.

ये भी पढ़िये – व्रत में साबूदाना के पापड़ बनाने की विधि

ऐसा हो खान-पान :

इस उपवास को रखने की प्रथा सालों पुरानी है. कई लोग निर्जला उपवास भी रखते हैं, तो वहीं कुछ लोग केवल ड्राई फ्रूट्स खाते हैं. इस दिन आप कुट्टू का आटा, सेंधा नमक, आलू, साबुदाना से बने व्यंजन खा सकते हैं. इन व्यंजनों को तेल में न बनाकर घी में बनाना अच्छा रहता है.

Shivratri Vrat Me Kya Na Khaye
Shivratri Vrat Me Kya Na Khaye

सिंघाड़े के आटे से बनाएं कटलेट :

आप उपवास में खाने के लिए सिंघाड़े के आटे से कटलेट भी बना सकते हैं. इसके अलावा गाजर के साथ आलू और शिमला मिर्च जैसी सब्जियों को घिसकर उनका मिश्रण तैयार कर लें.

अब इसमें सेंधा नमक, मिर्च डाल दें और फिर उसका गोला बनाकर तेल में फ्राई कर लें. बता दें कि इन कटलेट में काफी मात्रा में फाइबर पाया जाता है.

ये भी पढ़िये – साबूदाने की खिचड़ी बनाने की विधि

दूध से बनी ठंडाई पिएं :

आप दूध से बनी ठंडाई भी पी सकते हैं. इस ठंडाई में कैल्शियम और प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है, जो आपके पेट के लिए अच्छी रहती है. आप ठंडाई में बादाम, पिस्ता, काजू समेत कई तरह के ड्राई फ्रूट्स डाल सकते हैं.

इसके अलावा केसर, शक्कर, इलायची, सौंफ डालें. खास बात है कि इससे आपका शुगर लेवल भी ठीक रहता है.

ये चीजें शिवलिंग पर भूलकर भी नहीं चढ़ानी चाहिए

  • जिस तरह से खान-पान को लेकर कुछ चीजें वर्जित हैं. ठीक उसी तरह से शिवलिंग पर चढ़ावे को लेकर भी कुछ नियम हैं. जैसे शिवलिंग पर चढ़ाए जाने वाले प्रसाद को ग्रहण नहीं करना चाहिए. इसके पीछे ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से भक्त खुद को दुर्भाग्य के मुंह में प्रवेश कर जाते हैं.
Shivratri Vrat Me Kya Na Khaye
Shivratri Vrat Me Kya Na Khaye
  • वहीं अगर शास्त्रों की मानें तो कभी भी शिवलिंग पर तुलती अर्पित नहीं करनी चाहिए. तुलसी को भगवान विष्णु के लिए अर्पित करने के लिए विशुद्ध माना गया है, लेकिन शिवलिंग पर इसे अर्पित करना वर्जित है. शिव को चढ़ाने वाले पंचामृत में भी तुलसी दल का उपयोग नहीं करना चाहिए.
  • शिवजी को धतूरे का फूल, बेलपत्र, भांग का गोला मुख्यतौर पर चढ़ाया जाता है. इसके अलावा न ही शिवलिंग पर चंपा और केतली का फूल चढ़ाया जाता है और न ही हल्दी से अभिषेक किया जाता है.
  • ऐसी मान्यता है कि भगवान शिव ने इन फूलों को शापित किया था, जिस वजह से इन फूलों का भोलेनाथ की पूजा में इस्तेमाल वर्जित है.

Keywords : Shivratri Vrat Me Kya Na Khaye, Maha Shivratri, महाशिवरात्रि 2020, Fast of shivratri

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here