12 जुलाई को है देवशयनी एकादशी, भूलकर भी न करें ये 8 काम

हिंदू धर्म में बताए गए सभी व्रतों में आषाढ़ के शुक्ल पक्ष की देवशयनी एकादशी का व्रत सबसे उत्तम माना जाता है. मान्यता है कि इस व्रत को करने से भक्तों की समस्त मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं और उनके सभी पापों का नाश होता है. इस वर्ष देवशनी एकादशी 12 जुलाई 2019 के दिन मनाई जाएगी. देवशयनी एकादशी पर भगवान विष्णु की विशेष पूजा अर्चना करने का विशेष महत्व होता है. देवशयनी एकादशी को हरिशयनी एकादशी और ‘पद्मनाभा’ भी कहते हैं. मान्यता के अनुसार इसी रात्रि से भगवान का शयन काल आरंभ हो जाता है जिसे चातुर्मास या चौमासा का प्रारंभ भी कहते है. Devshayani Ekadashi 2019

Read : देवशयनी एकादशी : पूजा विधि, महत्व और कथा

पूजा का शुभ मुहूर्त –

इस साल हरिशयनी एकादशी 11 जुलाई को रात 3:08 से 12 जुलाई रात 1:55 मिनट तक रहने वाली है. प्रदोष काल शाम साढ़े पांच से साढे सात बजे तक रहेगा. माना जाता है कि इस दौरान की गई आरती, दान पुण्य का विशेष लाभ भक्तों को मिलता है. देवशयनी एकादशी के दिन भगवान को नए वस्त्र पहनाकर, नए बिस्तर पर सुलाएं क्योंकि इस दिन के बाद भगवान सोने के लिए चले जाते हैं.

Devshayani Ekadashi 2019

बरतें ये सावधानी-

  • देवशयनी एकादशी पर सूर्य उदय से पहले उठने का प्रयास अवश्य करें.
  • घर में लहसुन प्याज और तामसिक भोजन बिल्कुल भी ना बनाएं और ना ही खरीद कर लाएं
  • एकादशी की पूजा पाठ में साफ-सुथरे कपड़ों का ही प्रयोग करें, हो सके तो काले नीले वस्त्र प्रयोग न करें.
  • देवशयनी एकादशी के व्रत विधान में परिवार में शांतिपूर्वक माहौल रखें.
  • सभी प्रकार की शुद्ध और साफ पूजा पाठ की सामग्री ही प्रयोग में लाएं
  • पूजा में पीले फल और फूल अवश्य प्रयोग करें

Read : अक्षय तृतीया पर भूलकर भी न करें ये गलतियां

ऐसे करें पूजा-

  • देवशयनी एकादशी पर एक गमले में सुबह के समय छोटा केले का पौधा लगाएं.
  • घर की उत्तर पूर्व दिशा में केले के पौधे को रख कर रोली-मोली, पीले फल-फूल, केसर, धूप, दीप आदि से पूजा-अर्चना करें.
  • एक शुद्ध आसन पर बैठकर गाय के घी का दीपक हल्दी का स्वस्तिक बनाकर उस पर रखकर जलाएं.
  • देवशयनी एकादशी की व्रत कथा पढ़ें तथा परिवार के सदस्यों को भी सुनाएं. भगवान कृष्ण के 108 नामों का जाप करें.
  • शाम के समय केले के पौधे के नीचे फिर से गाय के घी का दिया जलाएं. इसके बाद अपने मन की इच्छा भगवान विष्णु के सामने कहे.
  • अब यह केले का पौधा किसी भी विष्णु मन्दिर या भगवान कृष्ण के मंदिर में रखकर आएं.
Devshayani Ekadashi 2019

न करें ये 8 काम-

इस दिन इन 8 कामों को भूलकर नहीं करना चाहिए। जानें आखिर देवशयनी एकदशी के दिन कौन-कौन से कामों से बचना चाहिए।

1- देवशयनी एकदशी के दिन जुआ नहीं खेलना चाहिए। जो व्यक्ति जुआ खेलता है, उसका परिवार व कुटुंब भी नष्ट हो जाता है। जिस स्थान पर जुआ खेला जाता है, वहां अधर्म का राज होता है।

2- देवशयनी एकदशी की रात को शयन नहीं करना चाहिए। इस दिन पूरी रात जागकर भगवान विष्णु की भक्ति, मंत्र जप और भजन करना चाहिए। इससे भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है।

Read : देवउठनी ग्यारस व्रत, कथा, पूजन विधि मुहूर्त एवं मान्यता

3- देवशयनी एकदशी के दिन पान खाना भी वर्जित माना गया है, पान खाने से मन में रजोगुण की प्रवृत्ति बढ़ती है। इसलिए एकादशी के दिन पान नहीं चाहिए।

4- देवशयनी एकदशी के दिन भूलकर भी दूसरों की बुराई, परनिंदा करने से बचना चाहिए।

5- देवशयनी एकदशी के दिन चुगली करने से मान-सम्मान में कमी आती है, अपमान का सामना भी करना पड़ सकता है।

6- देवशयनी एकदशी के दिन चोरी करना पाप कर्म माना गया है, चोरी करने वाला व्यक्ति परिवार व समाज में घृणा की नजरों से देखा जायेगा।

Devshayani Ekadashi 2019

7- देवशयनी एकदशी के दिन हिंसा करना महापाप माना गया है, हिंसा केवल शरीर से ही नहीं मन से भी होती है। इससे मन में विकार आता है। इसलिए शरीर या मन किसी भी प्रकार की हिंसा इस दिन नहीं करनी चाहिए।

8- देवशयनी एकदशी के दिन स्त्रीसंग करना भी वर्जित है क्योंकि इससे भी मन में विकार उत्पन्न होता है और मन भगवान भक्ति में नहीं लगता।

Share

Recent Posts

इस करवाचौथ पर अपने पतिदेव को प्यार से खिलाएं खास चीज कोफ्ता

आपने लौकी के कोफ्ते तो बहुत बार बनाए होंगे अब आप इसमें सिर्फ एक ही नहीं बल्कि कई तरह की… Read More

October 16, 2019

करवा चौथ पर प्रेगनेंट महिलाएं कुछ यूं रखें अपना ख्याल

इस माह 17 अक्टूबर, गुरुवार को करवा चौथ का पर्व मनाया जाएगा। इस व्रत में महिलाएं हर साल अपने पति… Read More

October 15, 2019

शरद पूर्णिमा पर 30 साल बाद बन रहा है ये दुर्लभ संयोग, मां लक्ष्मी की होगी कृपा

नमस्ते दोस्तों, अक्टूबर का महीना त्यौहारों का महीना है इसी क्रम में आज शरद पूर्णिमा के दिन बन रहे एक… Read More

October 13, 2019

शरद पूर्णिमा पर ऐसे बनाएं अमृत वाली खीर

शरद पूर्णिमा की रात खुले आसमान के नीचे खीर बनाकर रखने की परांपरा काफी पुरानी है। रात 12 बजे के… Read More

October 12, 2019

बंद किस्मत खोलने के लिए शरद पूर्णिमा पर किन्नर से मांग लें ये छोटी सी चीज

शरद पूर्णिमा का दिन कल है । इस दिन का एक अलग महत्‍व है। प्राचीन काल से धन का महत्व… Read More

October 11, 2019

करवा चौथ के दिन सुहागिनें भूल से भी ना करें ये गलतियां, हो सकता है भारी नुकसान

करवा चौथ व्रत सुहागिनों का महत्वपूर्ण त्यौहार माना गया है। करवा चौथ व्रत कार्तिक मास के चंद्रोदय व्यापिनी चतुर्थी को… Read More

October 10, 2019