Mahashivratri Poojan Vidhi in Hindi : हिंदू धर्म में भगवान भोलेनाथ की पूजा का सबसे बड़ा और पवित्र पर्व महाशिवरात्रि का बहुत अधिक धार्मिक महत्व है। माघ मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को महाशिवरात्रि का पर्व हर साल मनाया जाता है। इस साल महाशिवरात्रि का पर्व 1 मार्च 2022, दिन मंगलवार को है।

महाशिवरात्रि के दिन जो भक्त भगवान भोलेनाथ की चारों पहर की पूजा करते हैं, शिव जी उनकी मनोकामनाएं पूरी करते हैं. जानें महाशिवरात्रि पर महादेव की कृपा पाने के लिए किस विधि से पूजन करें –

यह भी पढ़ें – महाशिवरात्रि 2022 कब है, जानिये शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, मंत्र और खास संयोग

शिवजी को प्रसन्न करने के लिए क्या करें ? (Mahashivratri Poojan Vidhi in Hindi)

1- महाशिवरात्रि के दिन एक बड़े पात्र में धातु या मिट्टी से बने शिवलिंग की स्थापना करें.
2- महाशिवरात्रि पर चारों पहर भगवान भोलेनाथ की पूजा करनी चाहिए.
3- अब सबसे पहले एक मिट्टी के पात्र में पानी भर लीजिये, इसके ऊपर से बेलपत्र, धतूरे का फूल, थोड़े से चावल, एक साथ डालकर शिवलिंग पर अर्पित करें.
4- भक्तों को महाशिवरात्रि पर दिन व रात में शिवपुराण का पाठ करना या सुनना चाहिए.
5- सूर्योदय होने से पहले ही उत्तर-पूर्व दिशा में पूजा-आरती की तैयारी कर लीजिये.
6- अगर कोई सामग्री उपलब्ध न हो सके तो शुद्ध ताजा जल शिवजी को चढ़ाने से भी भगवान प्रसन्न हो जाते हैं.
7- शिवरात्रि के दिन व्रत रखकर बेलपत्र-जल से सच्चे मन से शिवजी की पूजा-अर्चना करें.
8- इस दिन जौ, तिल, खीर और बेलपत्र का हवन करने से सारी मनोकामना पूर्ण हो जाती हैं.

Secrets Of Shivling Kalash
Mahashivratri Poojan Vidhi in Hindi

चार पहर की पूजा का समय (Mahashivratri 2022 Char Pahar Puja Timings)

पहले पहर की पूजा का समय1 मार्च, 2022 शाम 6:21 PM से रात्रि 9:27 PM तक
दूसरे पहर की पूजा का समय1 मार्च रात्रि 9:27 PM से 12: 33 AM तक
तीसरे पहर की पूजा का समय1 मार्च रात्रि 12:33 AM से 2 मार्च सुबह 3 :39 AM तक
चौथे पहर की पूजा का समय2 मार्च सुबह 3:39 AM से 6:45 AM तक
व्रत पारण का शुभ मुहूर्त 2 मार्च, दिन बुधवार को सुबह 6 बजकर 46 मिनट तक रहेगा
चार पहर की पूजा का समय (Mahashivratri 2022 Char Pahar Puja Timings)

यह भी पढ़ें – जानिये महाशिवरात्रि 2022 की पौराणिक व्रत कथा

महाशिवरात्रि पूजा सामग्री लिस्ट (Mahashivratri Poojan Samagri List)

पुष्प, पंच फल पंच मेवा, रत्न, सोना, चांदी, दक्षिणा, पूजा के बर्तन, कुशासन, दही, शुद्ध देशी घी, शहद, गंगा जल, पवित्र जल, पंच रस, इत्र, गंध रोली, मौली जनेऊ, पंच मिष्ठान्न, बिल्वपत्र, धतूरा, भांग, बेर, आम्र मंजरी, जौ की बालें,तुलसी दल, मंदार पुष्प, गाय का कच्चा दूध, ईख का रस, कपूर, धूप, दीप, रूई, मलयागिरी, चंदन, शिव व मां पार्वती की श्रृंगार की सामग्री आदि।

सवाल जवाब – Frequently Asked Questions (FAQ’s)

महाशिवरात्रि कब है ?

महाशिवरात्रि का पर्व 1 मार्च 2022, दिन मंगलवार को है।

शिवजी को प्रसन्न करने के लिए क्या करें ?

महाशिवरात्रि के दिन जो भक्त भगवान भोलेनाथ की चारों पहर की पूजा करते हैं, शिव जी उनकी मनोकामनाएं पूरी करते हैं. इस आर्टिकल में ऊपर सम्पूर्ण पूजन विधि बताई गयी है.

महाशिवरात्रि पूजन का शुभ मुहूर्त क्या है ?

पहले पहर की पूजा का समय : 1 मार्च, 2022 शाम 6:21 PM से रात्रि 9:27 PM तक… बाकी पहर का समय आर्टिकल में ऊपर दिया गया है.

महाशिवरात्रि की पूजा में क्या क्या सामग्री लगती है ?

पुष्प, पंच फल पंच मेवा, रत्न, सोना, चांदी, दक्षिणा, पूजा के बर्तन… बाकी पूरी सामग्री लिस्ट ऊपर आर्टिकल में दी गयी है.

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here