Hartalika Teej Vrat Rules
Hartalika Teej Vrat Rules
ata

Hartalika Teej Vrat Rules : हरतालिका तीज को उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के कुछ भागों में तीजा भी कहा जाता है ये व्रत कुंवारी कन्याएं और महिलाएं रख सकती है. कुंवारी कन्याएं अच्छे पति को प्राप्त करने के लिए और विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए ये व्रत रखती हैं.

हरतालिका तीज का व्रत करवाचौथ व्रत से भी अधिक कठिन माना जाता है. इसलिए जो महिलाएं पहली बार हरतालिका तीज का व्रत रख रही हैं उन्हें कुछ बातों का विशेष ख्याल रखना चाहिए. हर साल भाद्रपद के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरतालिका तीज मनाई जाती है।

इस वर्ष 30 अगस्त 2022, मंगलवार को हरतालिका तीज मनाई जा रही है। इस दिन महिलाएं कड़ा उपवास करके रातभर जागरण करती है। आइये जानते हैं कि इस दिन कौन से कार्य नहीं करने चाहिए –

aia

यह भी पढ़ें – सौभाग्यवती स्त्रियों का हरतालिका तीज व्रत कब है, जानें मुहूर्त, मंत्र और महत्व

क्रोध न करें

इस दिन व्रत रखने वाली महिलाओं को क्रोध नहीं करना चाहिए। इसीलिए महिलाएं हाथों में मेहंदी लगाती है ताकि उनका दिमाग ठंडा रहे।

व्रत न तोड़ें

ऐसी मान्यता भी है कि इस दिन व्रती महिला जिस भी तरह का भोजन या अन्य कोई पदार्थ ग्रहण कर लिया जाता है तो अन्न की प्रकृति के अनुसार उसका अगला जन्म उस योनि में ही होता है। इसीलिए व्रत को तोड़ा नहीं जाता है।

Hartalika Teej Vrat Rules
Hartalika Teej Vrat Rules

रात में न सोयें

इन दिन महिलाओं को रातभर जागना जरूरी होता है, क्यों आठों प्रहर पूजा भी करना होती है और यह भी मान्यता या अंधविश्वास है कि जो महिला सो जाती है उसे अजगर या मगरमच्छ की योनि प्राप्त होती है।

दूध का सेवन न करें

ऐसी भी मान्यता है कि इस दिन महिलाएं यदि भूल से भी दूध का सेवन कर लेती है तो अगले जन्म में सर्प योनि को प्राप्त होती है।

पति से झगडा न करें

यह व्रत पति की दीर्घायु अथार्त लंबी उम्र के लिए रखा जाता है अत: व्रती महिलाएं इस दिन पति से किसी भी प्रकार का कलेश या झकड़ा नहीं करें।

यह भी पढ़ें – शिवजी को पाने के लिए माता पार्वती ने किया था ये व्रत, होती है पति की लंबी उम्र

बड़ों का अपमान न करें

इस दिन अपने से बड़े-बजुर्गों सहित छोटों का भी अपमान नहीं करें। इससे आपको अपने व्रत का फल नहीं मिलता है।

फल खाना भी है मना

फल खाने से अगला जीवन वानर का मिलता है। शक्कर खाने से मक्खी और जल पीने से मछली का जीवन मिलता है।

मन में न लाएं खोट

व्रत करने वाली महिलाओं को अपने मन में किसी तरह का खोट नहीं लाना चाहिए अर्थात किसी के भी प्रति गलत भावना ना रखें और भूलकर भी किसी को भला बुरा न कहें। मन को निर्मल बनाकर रखें।

Hartalika Teej Vrat Rules
Hartalika Teej Vrat Rules

कथा जरूर सुनें

विधि-विधान से पूजा के बाद के बाद कथा सुनना ना भूलें। पूजन के दौरान हरतालिका तीज की व्रत कथा का पाठ करना विशेष रूप से फलदायी मना जाता है।

हर साल रखें व्रत

मान्यता है कि यदि कोई भी कुंवारी या विवाहित महिला एक बार इस व्रत को रखना प्रारंभ कर देती हैं तो उसे जीवनभर यह व्रत रखना ही होता है। बीमार होने पर दूसरी महिला या पति इस व्रत को रख सकता है। अत: यदि आप स्वस्थ हैं तो इस व्रत को किसी भी हालत में तोड़े नहीं।

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

aba

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here