बसंत पंचमी पर भूलकर भी ना करें ये 4 काम, सरस्वती मां हो जाएंगी रुष्ट

0
595
Basant Panchami Par Na Karen Ye Kam
Basant Panchami Par Na Karen Ye Kam

बसंत पंचमी का पर्व सनातनी बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाते हैं. इस दिन शुभ मुहूर्त में मां सरस्वती की पूजा से विद्या और ज्ञान की प्राप्ति होती है. इस बार ये पर्व 26 जनवरी 2023 को मनाया जाएगा. इस दिन कुछ कार्यों को विशेष तौर पर करने की मनाही है.

जैसे कि बसंत पंचमी का ये पर्व प्रकृति की सौंदर्यता के दर्शन कराता है. इस वजह से इस दिन भूल से भी पेड़ पौधों को काटना या नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए. साथ ही इस दिन स्नान करके मां सरस्वती की पूजा करें इसके बाद ही कुछ ग्रहण करें. आइये जानते हैं इस दिन क्या करें-क्या न करें (Basant Panchami Par Na Karen Ye Kam)

यह भी पढ़ें – कब है बसंत पंचमी, जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और कथा

भूल से भी ना करें ये काम

  • इस दिन काले रंग के वस्त्र न पहनें.
    बसंत पंचमी के दिन मांस-मंदिरा का सेवन ना करें.
  • बसंत पंचमी के दिन बिना स्नान किए कुछ भी ना खायें.
    इस दिन पेड़-पौधों की कटाई-छटाई भी न करें.
basant panchami muhurat puja vidhi
Basant Panchami Par Na Karen Ye Kam

बसंत पंचमी के दिन क्या करें

  • बसंत पंचमी को अबूझ मुहूर्तों में से एक माना गया है ऐसे में आप इस दिन कोई भी शुभ काम बिना मुहूर्त देखें कर सकते हैं.
  • बसंत पंचमी के दिन सुबह उठते ही अपनी हथेलियों को अवश्य देखें. कहा जाता है मां सरस्वती हमारी हथेलियों में वास करती हैं.
  • बसंत पंचमी के दिन शिक्षा से संबंधित चीजों का दान करने से शुभ फल की प्राप्ति होगी.
  • इस दिन शिक्षा से संबंधित चीजों और अपनी पुस्तकों की पूजा करें. इससे पढ़ाई के प्रति आपका ध्यान और एकाग्रता बढ़ती है.
basant panchami muhurat puja vidhi
Basant Panchami Par Na Karen Ye Kam

बसंत पंचमी का महत्व

(Basant Panchami Mahatva)

बसंत पंचमी को श्रीपंचमी भी कहा जाता है. यह मां सरस्वती की पूजा का दिन है. शिक्षा प्रारंभ करने या किसी नई कला की शुरूआत करने के लिए आज का दिन शुभ माना जाता है. इस दिन कई लोग गृह प्रवेश भी करते हैं. ऐसा कहा जाता है कि इस दिन कामदेव अपनी पत्नी रति के साथ पृथ्वी पर आते हैं. इसलिए जो पति-पत्नी इस दिन भगवान कामदेव और देवी रति की पूजा करते हैं तो उनके वैवाहिक जीवन में कभी अड़चनें नहीं आती हैं.

यह भी पढ़ें – इस बार बसंत पंचमी पर बनाएं केसरिया चावल, ये है आसान रेसिपी

डिसक्लेमर– इस लेख में निहित किसी भी जानकारी की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों, ज्योतिषियों, पंचांग, मान्यताओं, धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here