Tips for Pregnant Women During Grahan
Tips for Pregnant Women During Grahan

साल के अंतिम सूर्य ग्रहण के बाद कल साल का आखिरी चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है। जहां साल का अंतिम सूर्यग्रहण 25 अक्तूबर को लगा था वहीं आखिरी चंद्र ग्रहण ठीक 15 दिन बाद देव दिवाली के दिन यानी 08 नवंबर को लगने जा रहा है। पहला चंद्र ग्रहण 16 मई 2022 को लगा था। 08 नवंबर को कार्तिक माह की पूर्णिमा तिथि भी है। यह चंद्र ग्रहण भारत में आंशिक सहित कई देशों में देखा जा सकेगा। सूतक सुबह आठ बजकर बीस मिनट से लग जाएंगे। Tips for Pregnant Women During Grahan

इस दौरान धार्मिक अथवा शुभ कार्य नहीं हो सकेंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, ग्रहण काल के दौरान हमारे आसपास की हर चीज प्रभावित होती है। ऐसे में गर्भवती महिलाओं को इस दौरान कुछ खास ख्याल रखने की सलाह दी जाती है।

यह भी पढ़ें – चंद्र ग्रहण के बाद 5 ग्रहों का राशि परिवर्तन, इन राशियों पर ज्यादा असर

वास्तु शास्त्रों के अनुसार ग्रहण के वक्त घर में उपस्थित गर्भवती महिला को अपना खास ध्यान रखना बेहद जरुरी है। चंद्र ग्रहण की नकारात्मक ऊर्जा सबसे अधिक बच्चों, बुजुर्गों और प्रेगनेंट महिलाओं पर पड़ती है। तो चलिए जानते हैं आखिर गर्भवती महिला किस तरह से इस चंद्र ग्रहण के बुरे प्रभावों से बच सकती हैं…

ग्रहण से पहले जरुर करें स्नान

गर्भवती महिला को ग्रहण के शुरु होने से पहले व बाद में स्नान अवश्य करना चाहिए। ऐसे इसलिए क्योंकि ग्रहण के वक्त आप और आपके बच्चे पर पड़ी नकारात्मक ऊर्जा का असर काफी हद तक कम हो जाता है। अगर किसी वजह से स्नान न कर पाएं तो गंगा जल के छींटे तो अवश्य अपने शरीर पर छिड़क लें। इससे भी बुरी ऊर्जा का असर कम हो जाता है।

Tips for Pregnant Women During Grahan
Tips for Pregnant Women During Grahan

कुछ भी खाने से करें परहेज

ग्रहण के वक्त गर्भवती महिला को कुछ भी खाना-पीना नहीं है क्योंकि इस वक्त महिला का शरीर काफी हद तक कमजोर होता है। ऐसे में इस दौरान कुछ भी खाने से आप बीमार हो सकती हैं। असल में ग्रहण के समय चंद्रमा से निकलने वाली हानिकारक किरणें खाने को दूषित कर देती हैं। ग्रहण के बाद जो भी आप खाने वाली हैं उसमें तुलसी की पत्तियां जरुर डालें। ऐसा करने से बने खाने पर पड़ा ग्रहण का बुरा प्रभाव पूरी तरह नष्ट हो जाएगा।

नुकीली चीजों के रहें दूर

ग्रहण के दौरान चाकू-छुरी का इस्तेमाल महिला को बिल्कुल नहीं करना है। साथ ही किसी कमरे या दरवाजे का ताला खोलने या बंद करने से भी पूरा परहेज करना है। ग्रहण के दौरान चाकू का इस्तेमाल करने से सीधा असर बच्चे पर पड़ता है। जो स्त्रियां ग्रहण के दौरान चाकू-छुरी का इस्तेमाल करती हैं उनके होने वाले बच्चों के शरीर पर अक्सर घाव देखे जाते हैं इसलिए ऐसा करने से बिल्कुल परहेज करें।

Tips for Pregnant Women During Grahan
Tips for Pregnant Women During Grahan

खारिश से पड़ सकते हैं रैशिज

चंद्र ग्रहण लगभग 4 से 5 घंटे तक चलने वाला है। इस दौरान कोशिश करें पेट या झांघों पर खारिश करने से परहेज करें। ग्रहण के दौरान की गई शरीर के किसी भी हिस्से पर खारिश महिला को ताउम्र भुगतनी पड़ सकती है। जी हां, खारिश के दौरान पड़े स्ट्रेच मार्कस के दाग सदा के लिए शरीर पर रह जाते हैं। अगर ज्यादा खारिश सताए तो उस पर गरी का तेल लगा लें।

यह भी पढ़ें : चंद्रग्रहण में खाना जरूरी है तो खाएं बस यही चीजें

पाठ-पूजा में लगाएं मन

ग्रहण के वक्त आपको सोना भी बिल्कुल नहीं है। कोशिश करें किसी किताब या पाठ में अपना मन लगाएं। ऐसा करने से ग्रहण की नकारात्मक शक्तियों से आप शत-प्रतिशत बच जाएंगी। जितना ज्यादा हो सके उतना पाठ-पूजा में अपना मन लगाएं।

Chandra Grahan Date and Time
Chandra Grahan Date and Time

पौधों से रहें दूर

अगर आपके घर में पौधे लगे हुए हैं तो ग्रहण के वक्त उन पौधों से गर्भवती महिला जितना दूर रहे उतना उसके लिए बेहतर रहेगा। असल में पौधों पर छोटे-छोटे कीट होते हैं, जिनके हल्का सा भी हाथ लगने से वो मर सकते हैं। ग्रहण के दौरान गलती से भी आपसे किसी जीव या कीड़े-मकौड़े की हत्या नहीं होनी चाहिए। इसका सीधा असर आपके बच्चे के ग्रहों पर पड़ेगा।

यह भी पढ़ें : क्यों नहीं खाना चाहिए चंदग्रहण पर खाना ?

ग्रहण में न जाएं बाहर

गर्भवती महिला को ग्रहण को नंगी आंखों से बिल्कुल नहीं देखना चाहिए। ऐसा करने से होने वाला बच्चा जन्म से ही कमजोर आंखों वाली रोशनी के साथ जन्म लेगा। नंगी आंखों से ग्रहण को देखना बहुत अशुभ माना जाता है। इसका सीधा असर बच्चे के मनोबल पर पड़ता है। गर्भवती महिला को ग्रहण के दौरान बाहर निकलने से परहेज करना चाहिए।इसी में मां और बच्चे दोनों की भलाई है।

ग्रहण के वक्त बरती जाने वाली यह सावधानियां केवल गर्भवती महिलाओं के लिए ही नहीं बल्कि सभी लोगों के लिए फायदेमंद हैं। इन सब बातों का मक्सद आपको डराना बिल्कुल नहीं है ब्लकि आपको सतर्क करना है। ग्रहों की चाल-ढाल बदलना सब परमात्मा के ही खेल हैं। इस दौरान कुछ सावधानियों को अपनाकर आप इन सब खेलों का आनंद ले सकते हैं। गर्भवती महिला को छोड़ बाकी सब लोग काले-फ्रेम वाले चश्में का इस्तेमाल कर ग्रहण को बिना किसी डर के देख सकते हैं। लेकिन 5 मिनट से ज्यादा ग्रहण को देखने से परहेज करें।

ऐसी ही अन्य जानकारी के लिए कृप्या आप हमारे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम और यूट्यूब चैनल से जुड़िये ! इसके साथ ही गूगल न्यूज़ पर भी फॉलो करें !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here